Loading...

कमलनाथ के खिलाफ FIR के लिए साइबर पुलिस में शिकायत | MP NEWS

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ द्वारा ट्विटर पर एक भ्रामक फोटो शेयर करके मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान की छवि खराब किए जाने के प्रयास के संबंध में भारतीय जनता पार्टी आईटी विभाग के प्रदेश संयोजक श्री शिवराज सिंह डाबी ने हबीबगंज पुलिस को लिखित शिकायत दी है। इस शिकायत में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 471/505 एवं साइबर अपराध विधि के अन्तर्गत अपराध दर्ज करने का आग्रह किया गया है।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ द्वारा 15 अक्टूबर को अपने ट्विटर हैंडल से एक फोटो शेयर की थी, जिसमें एक व्यक्ति सड़क पर बिछी डामर की परत को तह करके ले जा रहा है। इस फोटो को मध्यप्रदेश की बताते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया था। मामा जी के राज में भ्रष्टाचारी रास्तों की लगी है झड़ी, और वाशिंगटन में अच्छी मखमली सड़क कर लो घड़ी। भाजपा के सामने भ्रष्टाचार के सारे रिकार्ड लजाते है, मामा जी जाते जाते तथाकथित विकास की घड़ी कर साथ लिए जाते है। बढ़िया है, वक्त है बदलाव का। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के इस ट्वीट को भ्रामक, सरकार तथा मुख्यमंत्री की छवि खराब करने का प्रयास और कूटरचित बताते हुए भाजपा आईटी विभाग के प्रदेश संयोजक श्री शिवराज सिंह डाबी ने हबीबगंज पुलिस से बुधवार को इसकी लिखित शिकायत की है।

शिकायत में कहा गया है कि उक्त फोटो का प्रयोग पूर्व में बिहार चुनाव के दौरान भी बिहार की सड़क बताते हुए किया गया था। इसके बाद एबीपी न्यू चैनल द्वारा ‘वायरल सच’ कार्यक्रम में जब इसकी जांच की गई, तो पता चला कि उक्त फोटो ना तो बिहार की है और ना ही हिन्दुस्तान की है। वास्तव में उक्त फोटो बांग्लादेश की है, जिसे मध्यप्रदेश का बताते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने राजनीतिक लाभ के लिए मुख्यमंत्री जी एवं प्रदेश सरकार की छवि खराब करने के लिए ट्विटर पर शेयर किया है। शिकायत में कहा गया है कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का यह कृत्य भारतीय दंड संहिता की धारा 471/505 एवं साइबर अपराध विधि के अन्तर्गत अपराध की श्रेणी में आता है। अतः प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की जाए। शिकायती पत्र के साथ श्री डाबी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के ट्विटर एकाउंट की लिंक भी पुलिस को सौंपी है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com