Loading...

छुपकर पत्थर फेंकने वालों, ताकत है तो सामने मुकाबला करो: शिवराज सिंह | MP NEWS

भोपाल। चुरहट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शिवराज के मंच से कहा छुपकर पत्थर फेंकने वाले राहुल सिंह यानी अजय भैया अगर ताकत है तो सामने मुकाबला करो। मैं तो शरीर से बहुत कमजोर हूं लेकिन तुम्हारी हरकतों से रत्तीभर डरने वाला नहीं हूं। मेरे साथ प्रदेश की जनता खड़ी है। भाजपा के मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने बताया कि बीती रात 9:30 बजे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा चुरहट के लोगों का आशीर्वाद लेने पहुंची थी लेकिन कांग्रेस के लोगों ने रथ पर पत्थर फेंक दिए। सीधी के सूत्रों का कहना है कि वो अजय सिंह के ही लोग थे जबकि चुरहट में कहा जा रहा है कि यह एससी एसटी एक्ट का विरोध प्रदर्शन है। 

आमसभा में मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर ताकत है तो सामने आकर मुकाबला करो। उन्होंने कहा जनता ने मुझे चुरहट में जो आशीर्वाद दिया है, जिस तरह जनसैलाब स्वागत के लिए उमड़ा है, उससे बौखलाते क्यों हो। मैं किसी से घबराने वाला नहीं हूं। उन्होंने कहा अरे राहुल तुम राजनीत को कहां ले जाओगे। तुम्हारे पिताजी अर्जुन सिंह जी मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। केंद्रीय मंत्री रहे हैं। पंजाब के गवर्नर भी रहे हैं। उन्होंने कभी इस तरह के संस्कार नहीं डाले। वे तो भाजपा के एक कार्यक्रम में हम लोगों ने बुलाया था तो मुख्यमंत्री रहते हुए आए थे ।उन्होंने मतभेद को कभी मनभेद नहीं बनाया। अरे भैया यह तूने क्या कर दिया। जो मां का नहीं हुआ, वह प्रदेश का क्या होगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अजय सिंह से कहा राहुल तुमने तो अपनी बुजुर्ग मां का ख्याल नहीं रखा। वह दर-दर की ठोकरें खा रही हैं ।अदालत के चक्कर काट रही हैं। वह कोई सामान्य महिला नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री की पत्नी है। वह हमारी भी मां है लेकिन ऐसा आचरण तुम अपनी मां से करोगे। यह किसी को उम्मीद नहीं थी। मुझे तो रत्ती भर नहीं थी। उन्होंने कहा मुझे पता चल गया था राहुल सिंह चुरहट में मुझे रोकने के लिए प्लानिंग कर रहे हैं। भैया इतने कमजोर हो गए हो तुम शिवराज की एक यात्रा से डर गए। उन्होंने कहा तुम भी मेरे गांव गए थे, तो मैंने फूल मालाओं से स्वागत कराया था। मैंने कहा था अपना मेहमान आया है। उसका स्वागत करना है। प्रदेश की राजनीति को कहां ले जाओगे? मुख्यमंत्री ने कहा अजय सिंह इस तरह की बचकानी हरकत से प्रदेश की राजनीति को कहां ले जाओगे? मध्यप्रदेश में हिंसा की राजनीति को कभी स्थान नहीं मिला है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com