मिल बांचें कार्यक्रम: 'शिवराज मामा अमर रहें' बच्चों ने लगाया नारा | MP NEWS

01 September 2018

ग्वालियर। मप्र सरकार के मिल बांचें कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को जनप्रतिनिधियों के अलावा अन्य लोग जिन्होंने रजिस्ट्रेशन कराया था, उनको स्कूलों में पढ़ाने के लिए पहुंचना था। अशोकनगर जिले के शाढ़ौरा क्षेत्र के पहाड़ा गांव में मिल बांचें कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को पढ़ाने पहुंचे BJP विधायक गोपीलाल जाटव बच्चों को पढ़ाने विद्यालय पहुंचे। श्रीमान विधायक जी ने पढ़ाई की बजाय बच्चों से नारे लगवाए। इस दौरान उन्होंने वंदेमातरम का नारा बोलकर जब शिवराज मामा का नारा लगवाया तो पहली बार में मिडिल स्कूल के बच्चों ने कहा 'अमर रहें'। बच्चों के मुंह से निकले अमर रहें शब्दों से स्टाफ सहित विधायक जाटव चकित रह गए। उन्होंने तुरंत ही बच्चों से कहा कि अमर रहें, नहीं जिंदाबाद बोलों। इस पर बच्चों ने फिर हाथ उठाकर दो बार शिवराज मामा जिंदाबाद के नारे लगाए। करीब 11.30 बजे स्कूल पहुंचे विधायक ने प्राथमिक और मिडिल स्कूल में मात्र 10 मिनट रुके। 

अव्यवस्थाओं पर नाराज हुए विधायक 

क्षेत्रीय विधायक के स्कूल में आने की सूचना सुबह 11 बजे तक स्टाफ को नहीं थी। इसलिए वहां तैयारियां नहीं की। भास्कर टीम ने पहुंचकर जब प्राथमिक स्कूल के हेडमास्टर भोगीराम साहू से विधायक श्री जाटव के आने की जानकारी ली तो उन्होंने जानकारी नहीं होने की बात कही। अव्यवस्थाओं पर नाराजगी जाहिर करते हुए विधायक को तत्काल कक्षा में एक कुर्सी लगाई गई। इसके बाद उन्होंने बच्चों को कहा कि सरकार सब सुविधाएं दे रही है। भांजे भांजियों के लिए मामा सब कुछ कर रहे हैं। शिक्षक स्कूल आते हैं कि नहीं। ईश्वर से आपके भविष्य के लिए कामना करता हूं। इतना बोलकर वे मिडिल स्कूल में चले गए वहां भी उन्होंने सिर्फ बच्चों को छोटा सा भाषण दिया और चले गए। 

मिल बांचें कार्यक्रम की स्थिति देखने के लिए जब माध्यमिक विद्यालय सेजी पहुंचे तो स्कूल के बच्चे रेडियो पर उनका भाषण नहीं सुन सके। इस बारे में जब हेडमास्टर भोलाराम बौध से जानकारी ली तो उन्होंने कहा कि रेडियो का सेल खराब हो गया है। नया सेल लाने के लिए शिक्षक को शाढ़ौरा भेजा है। जिले के कई स्कूलों में मिल बांचे की तैयारियां नहीं होने से बच्चें भाषण तक नहीं सुन सकें। 

जिस स्कूल में विधायक श्री जाटव को पढ़ाने भेजा था वहां 70 बच्चों पर हेडमास्टर सहित 3 शिक्षक पदस्थ हैं। जबकि शुक्रवार को जिस कक्ष में विधायक पढ़ाने पहुंचे वहां मात्र 14 बच्चे ही मौजूद थे। इस दौरान जब हेडमास्टर से कम उपस्थिति के बारे में पूछा तो उन्होंने त्यौहार के कारण बच्चों की उपस्थिति कम बताते हुए जन्माष्टमी के बाद संख्या बढ़ने की बात कही। करीब 10 मिनट तक स्कूल परिसर में रुकने के बाद जब विधायक श्री जाटव चले गए तो प्राथमिक स्कूल के बच्चों से पूछा कि ये सफेद कुर्ता पजामा पहनकर आए थे वे कौन हैं। इस पर बच्चे तो चुप रहे लेकिन पीछे खड़े शिक्षक ने कहा कि विधायक जी हैं

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week