ये हैं मध्यप्रदेश के हार्दिक, अल्पेश और जिग्नेश, कमलनाथ की नई रणनीति | MP ELECTION NEWS

23 September 2018

भोपाल। कमलनाथ का सपना टूट रहा है। बीएसपी से गठबंधन की संभावनाएं कम होतीं जा रहीं हैंं हालांकि कमलनाथ ने उम्मीदों का दामन नहीं छोड़ा है परंतु प्लान बी पर भी काम शुरू कर दिया है। कमलनाथ चाहते हैं कि जिस तरह गुजरात में पिछड़ा वर्ग के युवा नेता अल्पेश ठाकोर, पाटीदार नेता हार्दिक पटेल, और आरक्षित जातियों की राजनीति करने वाले जिग्नेश मेवानी ने भाजपा की नाक में दम कर दी थी उसी तरह मध्यप्रदेश में भी 3 सितारों को कांग्रेस का सपोर्ट दिया जाए। उन्होंने तीन नाम खोज लिए हैं। दिग्विजय सिंह की टीम को जिम्मेदारी दी गई है कि वो इन तीनों को पर्याप्त उपलब्ध कराएं। 

आदिवासी नेता हीरा अलावा

एम्स की नौकरी छोड़कर आदिवासियों की राजनीति करने आए हीरा अलावा पर कमलनाथ की नजर है। हीरा अलावा ने जय आदिवासी युवा संगठन 'जयस' के बैनर तले मप्र की 80 विधानसभा सीटों पर अपना प्रभाव जमा लिया है। कमलनाथ चाहते हैं कि हीरा की मेहनत का फायदा कांग्रेस को मिले। कुछ फायदा हीरा को भी दिया जाएगा। इससे पहले सीएम शिवराज सिंह ने भी हीरा अलावा को भाजपा ज्वाइन करने का आॅफर दिया था। हीरा ने वो ठुकरा दिया था। अब कमलनाथ के प्रपोजल पर हीरा क्या जवाब देते हैं, देखना होगा। 

आरक्षित जातियों के नेता देवाशीष झारिया

देवाशीष जरारिया उर्फ देवता झारिया 'देवा' अजाक्स के महासचिव हैं। कहा जाता है कि आरक्षित जातियों के युवाओं को आकर्षित करने में देवाशीर्ष सफल रहे हैं। पुष्टि नहीं हुई है परंतु बताया जा रहा है कि देवाशीर्ष के पिता बामसेफ में कार्य करते थे। 2004 में कोई विवाद हुआ इसके बाद वो बामसेफ को छोड़कर अज़ाक्स में आ गए। अब देवाशीष भी अजाक्स की राजनीति करते हैं। खबर यह भी है कि देवाशीर्ष ने कांग्रेस ज्वाइन कर ली है। 

बुधनी का किसान नेता अर्जुन आर्य

दिल्ली यूनिवर्सिटी का स्टूडेंट अर्जुन आर्य हाल ही में सुर्खियों में आया है। ये सुर्खियां भी उसे सीएम शिवराज सिंह के कारण मिलीं। वो बुधनी में किसानों के लिए काम कर रहे हैं। किसानों की समस्याओं को सरकार तक ले जाने के लिए अर्जुन एक उच्चशिक्षित सेतु थे परंतु अफसरशाही ने अर्जुन आर्य का पॉलिटिकल शिकार करने की प्लानिंग की। पिछले दिनों आमरण अनशन पर बैठे अर्जुन को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे सेंट्रल जेल भेज दिया गया। इसी घटना से अर्जुन को फायदा हुआ। खुद दिग्विजय सिंह भी अर्जुन से मिलने जेल जा चुके हैं। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week