Advertisement

LOAN के लिए नहीं जाना होगा BANK, एक घंटे में 1 करोड़ का कर्ज | BUSINESS NEWS



सरकार कर्ज वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए हाल में छोटे कारोबारियों (एमएसएमई) के लिए शुरू किए गए पोर्टल का दायरा बढ़ाने पर विचार कर रही है। इस वेबसाइट के जरिये सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम (एमएसएमई) को एक घंटे के भीतर बैंक गए बिना एक करोड़ रुपये तक का कर्ज मिल सकता है। वित्तीय सेवा सचिव राजीव कुमार ने बताया, 'हमने छोटे कारोबारियों को कर्ज देने के लिए (www.psbloansin59minutes.com) वेब पोर्टल शुरू किया है। राजीव कुमार की मानें तो आगे चलकर पोर्टल पर और भी विकल्प मौजूद होंगे, इसमें पर्सनल लोन, आवास ऋण इत्यादि हो सकते हैं।' 

उन्होंने कहा कि इस स्वचालित कर्ज प्रसंस्करण प्रणाली से प्राप्त अनुभवों के आधार पर नये ऋण उत्पाद पेश किए जाएंगे। उन्होंने, 'संपर्क विहीन बैंकिंग (बैंक में नहीं वाली व्यवस्था) आगे चलकर मिसाल कायम करेगी क्योंकि यह पारदर्शिता को बढ़ावा देती है।' वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पिछले हफ्ते एमएसएमई के लिए एक नया पोर्टल पेश किया था। इस पोर्टल को लेकर वित्तीय सेवा सचिव ने कहा कि यह छोटे उद्यमों के लिए ऋण के प्रवाह को बढ़ाने में मदद करेगा। यह क्षेत्र उत्पादन, निर्यात और रोजगार सृजन के लिहाज से देश की रीढ़ की हड्डी है।

उन्होंने कहा कि यह प्रणाली अगले 6-7 महीनों में स्थिर हो जाएगी और बैंकिंग के तौर-तरीकों में एक आदर्श बदलाव की नींव रखेगी। उन्होंने कहा कि आसानी से ऋण मिलने से देश की उद्यमशीलता की भावना भी बढ़ेगी।पोर्टल के प्रमुख विशेषताओं पर प्रकाश डालते हुए सचिव ने कहा कि इसने कर्ज मिलने के समय को 20-25 दिन से घटाकर सिर्फ 59 मिनट करके ऋण वितरण तंत्र में एक नया कीर्तिमान स्थापित किया। सैद्धांतिक मंजूरी के बाद 7-8 कारोबारी दिवस में ऋण का वितरण कर दिया जाएगा।