HIGHCORT के निर्देश के विरोध में वकील हड़ताल पर, न्यायिक कार्य ठप | MP NEWS

18 September 2018

ग्वालियर। मध्य प्रदेश में वकीलों के हड़ताल पर नहीं जाने के उच्च न्यायालय  के निर्देश के विरोध में मंगलवार को प्रदेश भर के करीब सवा लाख वकील हड़ताल पर चले गए हैं। इस दिन प्रदेश के सभी वकील प्रतिवाद दिवस मनाएंगे। प्रदेश स्टेट बार काउॅन्सिल की स्टेयरिंग कमेटी के आह्वान पर इंदौर मुख्यपीठ समेत जबलपुर और ग्वालियर खण्डपीठ के किसी भी न्यायालय में अधिवक्ता पैरवी नही करेंगे। दरअसल, हाईकोर्ट द्वारा अधिवक्ताओं की हड़ताल को लेकर दिए गए निर्देश को अधिवक्ता समुदाय दमनकारी बता रहा है। हाईकोर्ट ने एक अधिवक्ता द्वारा दायर जनहित याचिका की सुनवाई करते हुए प्रदेश में आए दिन होने वाली वकीलों की हड़ताल को अवैधानिक करार दिया था। इसके साथ ही पालन न करने पर दंडात्मक आदेश भी जारी किए थे।

हाईकोर्ट के इस फैसले के खिलाफ बार काउंसिल ऑफ़ इंडिया द्वारा पांच मांगों को लेकर प्रदेश के अधिवक्ता संगठनों से सामान्य सभा की बैठक आयोजित कर निर्णय लेने की अपील की गई थी। सोमवार को हुई बैठक में स्टेट बार काउंसिल द्वारा प्रदेश में प्रतिवाद दिवस मनाने का आह्वान किया गया।

वहीं वकीलों के हड़ताल पर जाने के बाद मध्य प्रदेश के सभी जिलों में न्यायिक कार्य ठप पड़ गए हैं। सभी जिला और तहसील अदालतों के वकील न्यायिक कार्य से दूर रहकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं और राज्यव्यापी प्रतिवाद दिवस मना रहे हैं। इंदौर में छह हजार से ज्यादा वकील काम से दूर है इसके चलते अकेले इंदौर के न्यायालयों में 15 हजार से ज्यादा मामलों की सुनवाई अटकेगी।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->