पेट की चर्बी से हार्टअटैक का खतरा, अंडर 45 के 70% लोग खतरे में: रिपोर्ट | HEALTH NEWS

Advertisement

पेट की चर्बी से हार्टअटैक का खतरा, अंडर 45 के 70% लोग खतरे में: रिपोर्ट | HEALTH NEWS

अगर आप मोटापे के शिकार हैं, तो समय रहते सावधान हो जाइए, कहीं ऐसा न हो, कि ये मोटापा आपको दिल की बीमारी दे जाए। जी हां, ये हम नहीं बल्कि हाल ही में जारी हुई एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि मोटापे के रोग से परेशान लोगों में दिल की बीमारियों का खतरा बढऩे लगा है। सफोला लाइफ की ओर से हुए सर्वेक्षण में खासतौर से दिल्ली को केंद्रित किया गया है। इसमें बताया गया है कि दिल्ली के 45 साल से कम उम्र के लोग, जिन्हें पेट पर चर्बी है, हर 10 में से 7 को हार्ट डिसीज का खतरा है।

अध्ययन के अनुसार दिल्ली में पेट के मोटापे के शिकार 66 प्रतिशत पुरूषों की तुलना में 71 प्रतिशत महिलाओं को हृदय रोग का खतरा है। भारत में राज्यों के मुकाबले दिल्ली के 69 प्रतिशत लोगों को मोटापे से होने वाली ह्दय से जुड़ी बीमारियों का खतरा ज्यादा है। यह सर्वे दिल्ली, मुंबई, लखनऊ और हैदराबाद के 837 लोगों पर किया गया। सफोला लाइफ और निल्सन की ओर से कराए गए इस सर्वे का मकसद ये जानने के लिए किया गया था कि उनका दिल किस हद तक खतरे में है।

इन कारणों से बढ़ रहा खतरा
हार्ट डिसीज के बढऩे के कई कारण सामने आए हैं। इसमें सामने आया है कि 84 फीसदी लोग बाहर खाना खाते हैं, 77 प्रतिशत लोग ऐसे हैं जो सप्ताह में एक दिन जंक फूड जरूर खाते हैं। 71 प्रतिशत लोगों में काम का बढ़ता बोझ और 74 फीसदी लोग घरेलु तनाव से जूझने के कारण दिल की बीमारियों के मरीज बन रहे हैं।

नई दिल्ली स्थित मूलचंद मेडिसिटी के सीनियर कंसलटेंट कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. एच. के. चोपड़ा ने कहा अध्ययन के मुताबिक, 69 प्रतिशत दिल्ली वाली चाहे वो पुरुष हों या महिला, पेट के मोटापे के चलते हृदय रोग के खतरे के घेरे में है। इसलिए अब इस बात को लेकर जागरूक होने की आवश्यकता है कि अगर आपके पेट के आसपास चर्बी जमा है तो आपको हृदय रोग का खतरा है।  एक और खास एवं ध्यान देने लायक विशेष तथ्य सामने आया है कि अगर आपका बीएमआई सामान्य है लेकिन आपकी तोंद निकली हुई है तो भी आपके हृदय को खतरा है। इसलिए अपने हृदय का खास ख्याल रखने के लिए आपको सक्रिय कदम उठाने होंगे।'

ऑफिस के लम्बे कार्यकाल, काम का तनाव, अनियमित भोजन, नींद की कमी और गतिहीन दिनचर्या इसके कुछ प्रमुख कारण हैं। और इससे जीवनशैली से जुड़े रोगों जैसे हृदय रोग, मोटापा और डायबिटीज में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। न्यूट्रिशनिस्ट डॉ.ज्योत्सना सिंह ने बताया कि इस सर्वे के बाद हार्ट और पेट की चर्बी के कनेक्शन को और पुख्ता कर दिया है। उन्होंने कहा, 'कुछ आसान और स्वस्थ तरीकों से पेट की चर्बी को नियंत्रित किया जा सकता है जैसे सही खाना, जंक फूड नहीं खाना, नियमित व्यायाम, पर्याप्त नींद लेना और तनाव को कम करना।'
यदि आप जानना चाहते हैं कि आपका शरीर आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक तो नहीं, Free Body Analysis Report के लिए यहां क्लिक करें