पत्नी को सबक सिखाने पति ने तीनों बेटों को नदी में फेंका। NATIONAL CRIME NEWS

Advertisement

पत्नी को सबक सिखाने पति ने तीनों बेटों को नदी में फेंका। NATIONAL CRIME NEWS


आंध्र प्रदेश में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। यहां चित्तूर जिले में अपनी पत्नी से विवाद के बाद पति ने अपने तीन बच्चों को कथित रूप से नदी में फेंककर मार डाला। पानी में डूबकर तीनों की मौत हो गई। सोमवार सुबह तीनों मासूमों के शव नदी में तैरते नजर आए। यह खौफनाक घटना चित्तूर के बाला गंगना पल्ले ब्लॉक की है। पुलिस का कहना है कि एक कंस्ट्रक्शन मजदूर का रविवार रात अपनी पत्नी से झगड़ा हो गया। वह अपने ससुराल आया हुआ था। शराब के नशे में धुत पति की कथित प्रताड़ना से तंग आकर आरोपी की पत्नी अपने मायके आई थी। इसके बाद वेंकटेश ने ससुराल पहुंचकर पत्नी पर अपने साथ घर चलने का दबाव बनाया लेकिन उसने इनकार कर दिया। पत्नी के इनकार से नाराज होकर पति ने उसे सबक सीखाने की ठानी। और शराब के नशे में तीनों बच्चों को पुल से नीचे नदी में धक्का दे दिया।

विवाद के बाद रात में तकरीबन 10 बजे वेंकटेश अपने तीन बेटों- पुनीत (5 वर्ष), संजय (3 वर्ष) और राहुल (2 वर्ष) के साथ अपने गांव की ओर लौट रहा था। रास्ते में उसने एक बार फिर शराब पी और आगे के सफर पर चलने लगा। आरोप है कि जब वह नीवा नदी के पुल पर पहुंचा, तो उसने बच्चों को नदी में धक्का दे दिया। इस भयावह घटना को अंजाम देने के बाद वह अकेले घर पहुंचा और यह जताते हुए सो गया मानो कुछ हुआ ही न हो।

सोमवार सुबह पड़ोसियों ने बच्चों के घर पर न होने की बात नोटिस की, तो उन्होंने वेंकटेश की पत्नी से बच्चों के उसके साथ होने के बारे में पूछा। इसके बाद वह गांव पहुंची और वेंकटेश से बच्चों के बारे में सवाल किया, तो उसने कोई जानकारी न होने की बात कही। जब सभी पड़ोसी इकट्ठा होने लगे, तो उसने चिल्लाते हुए अपने कुकृत्य की जानकारी दी। गांववालों ने तीनों मासूमों के शव नदी में तैरते हुए पाए। वहीं घटना का पता चलने के बाद से वेंकटेश फरार है।