ऐदल सिंह कंसाना ने दी परिवार को जान से मारने की धमकी: महिला कांग्रेस नेता | MP CRIME NEWS

29 August 2018

ग्वालियर: महिला कांग्रेस की पूर्व जिला अध्यक्ष मीना सिंह ने पूर्व मंत्री ऐदल सिंह कंसाना पर आरोप लगाया है कि पूर्व मंत्री ने उनका हाथ पकड़ा और गालियां देते कहा कि सुमावली से अपना नाम वापस ले लो, नहीं तो पूरे परिवार को गोलियों से भुनवा दूंगा। उनका आरोप है कि उन्होंने सुमावली से टिकिट मांगा है, इसलिए पूर्व मंत्री बौखला गए हैं। यह वाकया मंगलवार को बानमोर स्थित होटल में हुई कांग्रेस की चंबल संभागीय चुनाव अभियान की समीक्षा बैठक का बताया जा रहा है। वहीं पूर्व मंत्री कंसाना का कहना है कि मीना सिंह के आरोप निराधार हैं।

बैठक में अपमान होने के बाद मीना सिंह ने पूर्व मंत्री के खिलाफ डीआईजी सुधीर वी लॉड को आवेदन दिया है। इसके बाद उन्होंने होटल राधिका पैलेस में प्रेस वार्ता में कहा कि पूर्व मंत्री मुझे गालियां देते रहे और वहां मौजूद जिला अध्यक्ष राकेश मावई सहित सभी वरिष्ठ पदाधिकारी खामोश रहे। हंगामा बढ़ते हुए देखकर चंबल संभाग के प्रभारी हृदय मोहन जैन ने पूर्व मंत्री को शांत रहने को कहा। इसके बाद वे बैठक से चली आईं। इस बैठक में अटेर विधायक हेमंत कटारे, करन सिंह जैन, मुरारी लाल दुबे, उम्मेद सिंह बना, मनोजपाल सिंह यादव, रघुराज कंसाना, गिर्राज डंडोतिया, बनवारीलाल शुक्ला, अतुल चौहान आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे। 

इस मामले में पूर्व मंत्री कंसाना ने कहा कि  मीना सिंह के आरोप निराधार हैं। उन्होंने बैठक में स्वयं ऐसी भाषा प्रयोग किया जो बताने लायक नहीं है। लोकतंत्र में सभी को टिकिट मांगने का अधिकार है। मैं महिलाओं का आदर व सम्मान करता हूं। अगर पार्टी मीना सिंह को टिकट देगी तो मैं स्वयं उनकी गाड़ी में बैठकर प्रचार करूंगा।  

मीना सिंह को बागचीनी ब्लॉक का प्रभारी बनाया गया था, लेकिन कुछ समय बाद चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हृदयमोहन जैन ने यह जिम्मेदारी मीना सिंह से हटाकर मुरारीलाल दुबे को सौंप दी। इसी बात को लेकर मीना सिंह व ऐदल सिंह में समीक्षा बैठक के दौरान विवाद हो गया। इसके बाद वे नाराज होकर बैठक से चलीं गईं। राकेश मावई, जिला अध्यक्ष, कांग्रेस, मुरैना

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week