LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें




Google अब LOAN भी दिलाएगा, वो भी पलक झपकते ही

29 August 2018

BHOPAL: गूगल में जितना वक्त आपको LOAN सर्च करने में लगता है, उससे भी कम वक्त में आपका लोन अप्रूव हो जाएगा। जी हां, गूगल अब आपको लोन भी दिलाएगा। दुनिया की सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन गूगल अब आपको पैसों की किल्लत होने पर लोन की सुविधा भी देगी। खास बात यह है कि ये लोन आपको घर बैठे मिलेगा। ऑनलाइन लोन देने के लिए अल्फाबेाट चार बैंकों से हाथ मिलाने जा रही है। अल्फाबेट गूगल ब्रांड नाम से सेवाएं देती है। इस अमेरिकी कंपनी की नजरें देश में तेजी से बढ़ते ऑनलाइन लोन बाजार पर है।

ये 4 बैंक में शामिल हैं ये नाम

अल्फाबेट चार बड़े बैंकों से हाथ मिलाने जा रही है। इनमें एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक और फेडरल बैंक शामिल हैं। गूगल ने यह जानकारी दी है। उसने कहा है कि ग्राहकों को प्री-एप्रूव्ड लोन दिया जाएगा। इसकी प्रक्रिया कुछ ही सेकेंड में पूरी हो जाएगी।

बढ़ रहे हैं ऑनलाइन लोन लेने वाले ग्राहक

फेसबुक की व्हाट्सअप से लेकर जैक मा की एंट फाइनेंशियल दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था में कारोबार का मौका चूकना नहीं चाहते हैं। देश में ऑनलाइन लोन देने का बाजार तेजी से बढ़ रहा है। इसकी वजह यह है कि मोबाइल यूजर्स छोटी रकम का लोन लेने के लिए ज्यादा पेपर वर्क की प्रक्रिया को पूरी करना नहीं चाहते हैं। इसके अलावा लोन के लिए क्रेडिट रेटिंग्स की भी जरूरत नहीं पड़ती है। फिनटेक कंपनियां जोखिम जानने के लिए आंकड़ों और एल्गोरिद्म की मदद लेती हैं।

गूगल तेज ऐप का नाम बदला

साथ ही गूगल ने अपने 'तेज' एप में बदलाव किया है। इसे अब गूगल पे नाम से जाना जाएगा। गूगल ने पिछले साल सितंबर में इसे पेश किया था। अब यूजर्स इस एप की मदद से लोन ले सकते हैं। लोन की रकम सीधे उनके बैंक खाते में जमा कर दी जाएगी। कंपनी इस एप का मॉडल दूसरे देशों के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है।

देश के 3,00,000 शहरों और गांवों के 5.5 करोड़ लोगों ने गूगल के पेमेंट एप को डाउनलोड किया है। वे इसका इस्तेमाल बस का टिकट खरीदने, रेस्तरां का बिल चुकाने और दोस्तों को पैसा भेजने के लिए करते हैं। गूगल ने कहा है कि उसके पेमेंट का सालाना ट्रांजेक्शन 30 अरब डॉलर तक पहुंच गया है। क्रेडिट सुईस ग्रुप के मुताबिक, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन बाजार के 2023 तक 100 लाख करोड़ डॉलर तक पहुंच जाने का अनुमान है।अभी यह 200 अरब डॉलर का है।



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Suggested News

Loading...

Advertisement

Popular News This Week

 
-->