7 साल की मासूम का नाना ने कई बार रेप किया फिर अनाथालय छोड़ आया | CRIME NEWS

19 August 2018

नई दिल्ली। उस मासूम बच्ची की उम्र महज 7 साल है। मां इस दुनिया में नहीं, जिस पिता की उंगली थामी थी, वो भी छोड़कर चला गया। वह जाने से पहले अपनी इकलौती बेटी को उसके नाना और मामा-मामी के हवाले कर गया। इसके बाद मुसीबतों के भंवर में फंसी मासूम बच्ची के साथ कुछ ही दिनों में जो हुआ उसे सुनकर पुलिसवालों की भी आंखें भर आईं क्योंकि वो अनाथ नहीं थी, लेकिन उसे रोहिणी स्थित अनाथालय के गेट पर छोड़कर उसका नाना चुपके से निकल गया। आंखों से छलकती मासूमियत देख जब अनाथालय वालों ने पूछताछ की तो कुछ ही घंटे में दर्दनाक सच सामने आया। नाना उस मासूम से रेप कर रहा था। पुलिस ने 14 अगस्त को आरोपी नाना को अरेस्ट कर लिया। 

पुलिस अफसरों के मुताबिक, मूलरूप से राजस्थान का रहने वाला गिरफ्तार आरोपी 60 वर्षीय नाना कई साल से नांगलोई इलाके के राजधानी पार्क में रहता है। अपना ही मकान है। पेशे से राजमिस्त्री है। 7 साल की बच्ची माता-पिता के साथ पहले रोहिणी में रहती थी। पिता के टॉर्चर से तंग आकर मां ने दो साल पहले खुदकुशी कर ली। मां के लिए आए दिन रोती तड़पती बच्ची के लिए पिता ही एक सहारा था। वह भी एक साल पहले बेटी को उसके मामा-मामी के हवाले करके चला गया। घर में मामा-मामी के अलावा नाना रहते हैं। मामी को बच्ची बोझ लगने लगी। दंपती में तकरार रहने लगी। मामा-मामी मासूम को नाना के घर में अकेला छोड़ नजफगढ़ में शिफ्ट हो गए। वह पिछले कुछ समय से नाना के साथ घर में अकेली रह रही थी। 

आरोप है कि नाना ने एक रात गलत काम किया, फिर उसके बाद यही सिलसिला चलता रहा। नाना को लगा कि बड़ी होकर उसकी करतूतों का खुलासा कर सकती है, नाना को भी बच्ची बोझ लगने लगी। वह बच्ची को रोहिणी में अनाथालय के गेट पर यह कहकर छोड़ आया कि इसका कोई नहीं है। धीरे-धीरे बातचीत में दो-तीन घंटे के अंदर ही बच्ची ने सब कुछ सच बता दिया। अनाथालय की तरफ से पुलिस को कॉल की गई। इसके बाद पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी नाना को गिरफ्तार कर लिया। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week