किसान की आय दुगनी होते तक चैन की सांस नहीं लूंगा: शिवराज सिंह | MP NEWS

06 July 2018

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने उदयपुरा में 156 करोड़ की लागत की समूह पेयजल योजना का लोकार्पण किया। इस योजना से 107 गाँवों की डेढ़ लाख आबादी को शुद्ध पेयजल मिलेगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 88 करोड़ रूपए से अधिक राशि के 7 कार्यों का लोकार्पण तथा 83 करोड़ 61 लाख रूपए की राशि के 20 कार्यो का शिलान्यास भी किया। कार्यक्रम की सबसे खास बात यह थी कि मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा नदी के किनारे बसे 39 शहरों में 944 करोड़ रूप्ए की पेयजल योजनाओं का ई-शिलान्यास भी किया। कार्यक्रम में जिले के एक लाख 46 हजार हितग्राहियों को विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाओं के करीब 109 करोड़ रूपए के हितलाभ से लाभान्वित किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक किसानों की आय दोगुनी नहीं हो जाती तब तक हम चैन की साँस नहीं लेंगे।

अत्याधिक विपरीत मौसम और भारी वर्षा के बीच उदयपुरा पहुँचे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि सरकार किसानों की बेहतरी के लिए हर कदम उठा रही है। पानी, बिजली, सड़क जैसी बुनियादी सुविधाओं पर सरकार ने विशेष ध्यान दिया है। पहले मात्र साढ़े सात लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा थी जिसे बढ़ाकर 40 लाख हेक्टेयर कर दिया गया है। आगामी वर्षो में इसे 80 लाख हेक्टेयर तक बढ़ाने का लक्ष्य रखा गया है। इस पर एक लाख 80 हजार करोड़ की राशि खर्च की जाएगी।

एक वर्ष में किसानों के खाते में 30 हजार 362 करोड़ की राशि पहुँची
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पिछले एक वर्ष की अवधि में किसानों के खातों में भावांतर भुगतान योजना, कृषक समृद्धि योजना सहित अन्य किसान हितैषी योजनाओं में 30 हजार 362 करोड़ रूपए किसानों के खातों में जमा करवाये गये हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने केन्द्र सरकार द्वारा विभिन्न कृषि उपजों का समर्थन मूल्य बढ़ाए जाने का स्वागत करते हुए कहा कि एक बार में समर्थन मूल्य की इतनी राशि एक साथ कभी नहीं बढ़ी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि असंगठित श्रमिकों के लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना में पंजीकृत असंगठित श्रमिक को जमीन के पट्टे दिए जाएंगे। उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना तथा मुख्यमंत्री आवास मिशन में घर बनाकर दिए जाएंगे। श्रमिकों के बच्चों को प्रथामिक से लेकर उच्चतम स्तर तक की शिक्षा निःशुल्क दी जायेगी। उन्होंने बताया कि संबल योजना के हितग्राहियों को आगामी 4 अगस्त से पूरे प्रदेश में एक साथ लाभान्वित करने का कार्य किया जाएगा।

संबल में पंजीकृत श्रमिक सरल बिजली योजना के पात्र
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गरीबों को संबल योजना में पंजीकृत श्रमिक सरल बिजली योजना के पात्र होंगे। उन्हें नया विद्युत कनेक्शन लेने के लिए अलग से कोई राशि नहीं देनी होगी। पात्र हितग्राहियों को मात्र 200 रूपए प्रतिमाह बिजली का बिल देना होगा जिसमें चार बल्ब, दो पंखे और एक टीवी चलाया जा सकेगा। पुराने बिजली के बिल माफ करने के लिए जुलाई और अगस्त के महीनों में शिविर लगाए जायेंगे। हितग्राहियों को जुलाई माह के बिल के अगस्त में भुगतान से योजना का लाभ मिलना शुरू हो जाएगा।

रेल मंत्री श्री पीयूष गोयल ने गांव तक नल-जल योजना के माध्यम से शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान को बधाई देते हुए कहा कि श्री चौहान के नेतृत्व में विकास का नया इतिहास रचा जा रहा है। जरूरतमंद लोगों को सरकार द्वारा बनाई गई योजनाओं का लाभ निश्चित तौर पर मिले, इसके लिए मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा उठाए गए कदम सराहनीय हैं। श्री गोयल ने कहा कि राज्य सरकार की भावांतर योजना तथा मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना ने किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुश्री कुसुम महदेले, लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह तथा सांसद श्री उदय प्रताप सिंह ने प्रदेश के विकास और आमजन के कल्याण के लिए चलाई जा रही अनेक योजनाओं का उल्लेख किया। कार्यक्रम में उदयपुरा विधायक श्री रामकिशन पटेल, गाडरवारा विधायक श्री गोविन्द सिंह सहित अन्य जन-प्रतिनिधि तथा विभिन्न योजनाओं के हितग्राही उपस्थित थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week