Loading...

CM शिवराज सिंह की CAR में घूंसे मारे, SP से हाथापाई, ​अशोकचिन्ह गिरा | VIDISHA MP NEWS

भोपाल। विदिशा में सीएम शिवराज सिंह चौहान के मुख्य आतिथ्य में आयोजित हुए किसान सम्मेलन में सीएम शिवराज सिंह भीड़ के हमले का शिकार हो गए। सत्यनारायण राठौर हत्याकांड में आरोपियों की अब तक गिरफ्तारी ना हो पाने से नाराज सत्यनारायण राठौर के परिवारजन 500 पुलिस जवानों के मजबूत सुरक्षा घेरे को तोड़ते हुए मुख्यमंत्री की कार तक पहुंच गए और कार पर घूंसे मारे। यह उस समय हुआ जबकि कार के भीतर सीएम शिवराज सिंह मौजूद थे। सीएम की सुरक्षा के लिए आगे आए एसपी विनीत कपूर को भी धक्का देकर हटाया गया। इस हाथापाई में एसपी की वर्दी में कंधे पर लगा शोल्डर फ्लैप (अशोक चन्हि) जमीन पर गिर गया। 

विदिशा में किसान सम्मेलन को संबोधित करने के बाद जैसे ही सीएम शिवराज सिंह बाहर निकले तब उनकी कार को लोगों ने घेर लिया। जब सीएम कार में बैठे तब सत्यनारायण राठौर हत्या कांड के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर परिजनों ने हंगामा कर दिया। इसी बीच लोगों ने उनकी कार में घूंसे मारना शुरू कर दिया और हत्या के आरोपियों को पकड़ने की मांग को लेकर लोग नारेबाजी करने लगे। 

एसपी के कंधे पर लगा अशोक चिन्ह गिर गया
एसपी विनीत कपूर भीड़ में पहुंचे तो कुछ लोगों ने उनसे भी झूमाझटकी की। इस झूमाझटकी की वजह से उनके कंधे का अशोक चिन्ह गिर गया। नाराज लोग सीएम को कार से उतरकर बात करने की मांग कर रहे थे। इस हंगामे के बाद इंस्पेक्टर रजनी श्रीवास्तव मृतक सत्यनारायण के भाई अशोक राठौर को खींचकर ले गई और फिर बहस होती रही। 

भीड़ ने 500 से ज्यादा पुलिसकर्मियों का सुरक्षाघेरा तोड़ा
उनकी सुरक्षा को लेकर 500 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। इसके बाद कई लोग उनकी कार के पास पहुंचे और कार में घूंसे मारे। गौरतलब है कि 24 जून की रात में करैया खेड़ा रोड निवासी और कृष्णा गार्डन के मैनेजर सत्यनारायण राठौर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतक की पत्नी और बुआ को इंस्पेक्टर रजनी श्रीवास्तव ने सीएम से मुलाकात भी करवा दी थी। वहीं एसपी विनीत कपूर का कहना है कि सीएम के वाहन को निकालने में धक्का लग गया था। इस वजह से शोल्डर फ्लैप गिर गया था
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com