बंदूकधारी BJP नेता को डंडाधारी डाकुओं ने बंधक बनाया, 15 लाख की डकैती | MP NEWS

15 July 2018

श्योपुर। श्योपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष कविता मीणा के ससुर भाजपा नेता मूलचंद रावत के घर पर 15 लाख की डकैती की खबर आ रही है। कुल 7 सदस्यीय गिरोह के 5 डकैत घर में घुसे और डंडा व पेंचकस की दम पर मूलचंद समेत परिवार के सभी 5 सदस्यों को बंधक बनाकर 15 लाख रुपए की डकैती की। बता दें कि मूलचंद के घर में घटना के समय 3 लाइसेंसी बंदूकें मौजूद थीं। डंडाधारी डकैत गिरोह बंदूकें भी लूट ले गया। पुलिस थाने में दर्ज एफआईआर के अनुसार मूलचंद के घर की तिजोरी में डकैतों को 41 तोला सोने, 6 किलो चांदी मिली। 

पहले 2 नौकरों को बंधक बनाया, फिर घर में घुसे

घटना शुक्रवार-शनिवार की रात 1 से 2 बजे के बीच हुई। रात ढाई बजे एसपी, एएसपी सहित पुलिस बल मौके पर पहुंचा, लेकिन डकैतों का कोई सुराग नहीं लग सका। जैदा-सलापुरा बायपास, राजीव गांधी स्कूल के सामने स्थित जिपं अध्यक्ष के घर पर डाकुओं ने धावा बोला। डाकुओं ने सबसे पहले घर के बाहर झोपड़ी में रहने वाले दो नौकर सूरज व रामअवतार आदिवासी को बांध दिया। दो डाकू नौकरों के पास घर के बाहर निगरानी करने खड़े रहे। बाकी पांच डाकू दीवार के सहारे दो मंजिला मकान की छत पर चढ़े। वहां एल्युमिनियम जाली को तोड़कर कमरे में घुसे, जिसमें जिपं अध्यक्ष का भतीजा आशीष सोया हुआ था।

एक एक करके पूरा परिवार बंधक बना लिया

मकान में घुुसे सभी पांच डाकू चड्ढी-बनियान में थे। एक के चेहरे पर नकाब था। उन्होंने सोते हुए आशीष को उठाया और धमकाते हुए कहा कि जैसा हम कहते चलें, वैसा करते जाओ नहीं तो बुरा होगा। इसके बाद बदमाशों ने आशीष के मोबाइल से मूलचंद रावत (जिपं अध्यक्ष के ससुर) को फोन लगाकर कमरे का दरवाजा खुलवाया।

मूलचंद को भी डाकुओं ने पकड़ लिया। इसके बाद दूसरे कमरे में सो रहीं जिपं अध्यक्ष कविता मीणा की जेठानी सुनीता, भतीजी आकांक्षा व आशीष की पत्नी को बदमाशों ने अपने कब्जे में ले लिया। सबको एक कमरे में बांधकर बदमाशों ने धमकाना शुरू किया। इस बीच मूलचंद रावत ने विरोध किया तो एक बदमाश ने उन पर लाठियों से हमला कर दिया।

सोना चांदी के साथ बंदूकें भी लूट ले गए

इसके बाद उन्होंने तिजोरी, अलमारी की चाबी ली। तिजोरी में रखे 41 तोला सोने, 6 किलो चांदी के जेवर उठाए। उसके बाद घर के सभी परिजन के पास रखे करीब 30 हजार रुपए लिए। बदमाशों ने घर के सभी मोबाइल व तीनोंं लाइसेंसी बंदूक पहले ही अपने कब्जे में ले ली थी। भागते समय मोबाइलों को खेत में फेंक गए। एक बंदूक को दूसरी मंजिल पर, दो को नीचे मेन गेट के पास खाली ड्रम में फेंक गए। माउजर बंदूक के 6 कारतूसों से भरी मैग्जीन को बदमाश अपने साथ ले गए।

भाजपा नेता ने डाकुओं को मिसगाइड करने की कोशिश की

गहने और रुपयों के लिए जब बदमाश परिजन को धमका रहे थे तब मूलचंद रावत ने कहा कि हमारे पूरे जेवर व पैसा बैंक के लॉकर में हैं। इस पर बदमाशोंं ने यकीन नहीं किया और धक्का-मुक्की शुरू कर दी। इसके बाद मूलचंद रावत ने कहा कि यह सब मत करो। तुम लोगों को पैसा चाहिए, मैं सुबह 10 लाख रुपए दे दूंगा। जब तक चाहो तो मेरे नाती आशीष को साथ ले जाओ। सुबह जहां बताओगे, 10 लाख भेज दूंगा और पुलिस में शिकायत भी नहीं करूंगा पर घर में लोगों को नुकसान पहुंचाना बंद करो। बदमाशों ने बात नहीं मानी और चाबी ढूंढकर तिजोरी व अलमारी मेें रखा माल लेकर भाग गए।

इनका कहना है
बदमाश करीब 15 लाख रुपए के जेवर व नगदी लेकर गए हैं। पुलिस पार्टियां बदमाशों की तलाश मेंं जुटी हैं। स्निफर डॉग व फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की मदद से बदमाशों को तलाशने की कवायद की जा रही है - डॉ. शिवदयाल सिंह, एसपी, श्योपुर
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...