पुणे में छुपी थीं विधानसभा के पूर्व सचिव की बेटियां, गिरफ्तार | BETUL MP NEWS

04 July 2018

भोपाल। LN MEDICAL COLLEGE, BHOPAL के MBBS सेकेंड ईयर के छात्र यश पाठे सुसाइड केस में फरार चल रहीं विधानसभा के पूर्व सचिव सत्यनारायण शर्मा की दोनों बेटियां श्रुति शर्मा और शालीन उपाध्याय को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि दोनों पुणे में अपने एक दोस्त के यहां छुपी हुईं थीं। बता दें कि श्रुति शर्मा पर कॉलेज में ड्रग सप्लाई करने का भी आरोप है। पुलिस का कहना है कि श्रुति ही गैंगलीडर है और उसी के कहने पर यश पाठे को प्रताड़ित किया जाता था। श्रुति के पिता पूर्व सचिव सत्यनारायण शर्मा दिग्विजय सिंह शासनकाल में नियुक्त हुए थे। बाद में उन पर फर्जी दस्तावेजों से नौकरी पाने का आरोप लगा और जेल भेजा गया। बताया जा रहा है कि दोनों लड़कियों को बचाने के लिए बैतूल पुलिस पर जबर्दस्त दवाब बनाया जा रहा है। 

बैतूल पुलिस मुख्य आरोपी और भोपाल में विधानसभा के पूर्व सचिव की बेटी श्रुति शर्मा और शालीन उपाध्याय की तलाश में एक पखवाड़े से जुटी हुई थी। दोनों आरोपियों के पुणे में अपने किसी दोस्त के घर में छुपे होने की सूचना पुलिस को भोपाल से मिली थी। इसके बाद कोतवाली पुलिस की टीम रविवार को पूना पहुंची। दो दिन की मशक्‍कत के बाद मंगलवार को कोतवाली पुलिस दोनों को खोजने में सफल हो पाई है।

सुसाइड मामले में पुलिस ने पांच छात्रों को बनाया है आरोपी
भोपाल के एलएन मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे बैतूल के छात्र यश पाठे की आत्महत्या मामले में पुलिस ने भोपाल निवासी शालीन उपाध्‍याय, गौरव दुबे, आकाश सोनी, श्रुति शर्मा और सतना निवासी कार्तिक खरे के खिलाफ केस दर्ज किया है।

दो आरोपी पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं
भोपाल से बैतूल की कोतवाली पुलिस पहले ही गौरव दुबे और आकाश सोनी को गिरफ्तार कर चुकी है। अब गैंग लीडर श्रुति शर्मा और शालीन उपाध्याय के गिरफ्तार हो जाने के बाद सतना निवासी कार्तिक खरे ही पुलिस की पकड़ से बाहर है। पुलिस सूत्रों की मानें तो देर रात्रि तक दोनों आरोपितों को बैतूल लेकर पुलिस की टीम पहुंच जाएगी।

वीडियो से हुई थी मारपीट में शामिल होने की पुष्टि
इनसे पूछताछ के बाद बुधवार को न्यायालय के समक्ष पेश कर दिया जाएगा। यश पाठे की आत्महत्या के मामले में जांच कर रही कोतवाली पुलिस को यह जानकारी मिली है कि आरोपित छात्र श्रुति शर्मा के इशारे पर काम करते थे। इसका एक वीडियो भी वायरल हुआ था, जिसमें श्रुति यश को धमका रही है, जबकि एक साथी यश की बेल्ट से पिटाई कर रहा है। 11 एवं 12 जून को मृतक के कमरे पर जाकर उसके साथ मारपीट भी की थी। गैंग की सरगना कॉलेज में पढ़ने आने वाले अन्य जिलों के छात्र-छात्राओं को अपना निशाना बनाती थी।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->