Loading...

50 साल बाद मिला शहीद सैनिक का शव, वो भी सही सलामत | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। हिमाचल के लौहाल घाटी में करीब 50 साल पहले हुई एक विमान दुर्घटना में लापता शहीद जवान का शव शुक्रवार को मिला। यहां पर पहुंचे पर्वतारोहियों के दल को यह शव मिला। फरवरी 1968 में भारतीय सेना का विमान जब दुर्घटना ग्रस्त हुआ था तो उसमें 102 लोग सवार थे। यह विमान चंडीगढ़ से लेह जा रहा था।

विमान के कुछ अवेशष मिले

शहीद जवान के शव को खोजने वाली पर्वतारोहियों की टीम ने बताया कि जब वे ढाका ग्लेशियर बेस से समुद्र तल से करीब 6200 मीटर की ऊंचाई पर गए तब वहां विमान के कुछ अवेशष मिले। इसके बाद उनकी टीम सतर्क हो गई। टीम के सदस्य जब कुछ मीटर की दूरी पर और आगे गए तो वहां एक जवान का शव दफन मिला। जैसा की तस्वीरों में देखा गया कि शव बर्फ में दबा साबुत और सलामत था।

मलबे की खोज 2003 और 2007 में हो चुकी है

इससे पहले इस विमान दुर्घटना की मलबे की खोज 2003 और 2007 में हो चुकी है। 2007 में भारतीय सेना ने पुनुरुत्थान-3 नाम के अभियान में चलाया था जिसमें पांच दिन की सघन खोज में दो जवानों के शव बरामद किए गए थे।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com