सपाक्स ने शिवराज सरकार के खिलाफ 1 करोड़ हस्ताक्षर का अभियान शुरू किया | MP NEWS

14 July 2018

भोपाल। सपाक्स द्वारा अपनी मांगों के समर्थन में माननीय राष्ट्रपति को भेजने हेतु हस्ताक्षर अभियान का प्रारंभ किया गया। हस्ताक्षर अभियान भोपाल में संस्था कार्यालय के साथ-साथ सभी जिलों में हस्ताक्षर अभियान एक साथ चालू किया गया। प्रांतीय कार्यालय में सपाक्स के संरक्षक दल तथा संस्थापक मंडल एवं कार्यकारिणी के सदस्य की उपस्थिति में अभियान का प्रारंभ किया गया। सपाक्स समाज के संरक्षक हीरालाल त्रिवेदी पूर्व, सूचना आयुक्त डॉक्टर केएल साहू, सपाक्स समाज अध्यक्ष, द्वारा आज होशंगबाद तथा सीहोर में सपाक्स समाज के आयोजित सम्मेलन में हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ किया गया।

इस अभियान में एक करोड़ लोगों के हस्ताक्षर से माननीय महामहिम राष्ट्रपति जी को ज्ञापन भेजने का लक्ष्य रखा गया है। ज्ञापन के प्रारूप में निम्नानुसार मांगे एवं विचार रखे गए हैं :-
महामहि‍म राष्‍ट्रपति जी,
हम भारत के लोग आपसे विनय पूर्वक प्रार्थना करते हैं कि भारत के संविधान में निहित स्‍वतंत्रता, समानता, बंधुत्‍व के आदर्श को संकट में देखकर हम चिन्तित हैं। महोदय क्षुद्र राजनैतिक लाभ के लिए संविधान में वर्णित मौलिक अधिकारों को निरंतर शिथिल किया जा रहा है। सामाजिक न्‍याय के नाम पर समृद्ध हो चुके लोगों का अभिजात्‍य वर्ग मात्र ही सभी विशेषाधिकारों का उपयोग करते हुए वास्‍तविक निर्धन लोगों तक संवैधानिक प्रावधानों का लाभ पहुंचने में दीवार बनकर खड़ा है और समस्‍त लाभ स्‍वयं ही हड़प रहा है।

महोदय, इस देश में स्वतंत्रता के बाद से लागू आरक्षण की व्यवस्था का दायरा निरंतर बिना किसी समीक्षा को बढ़ाया जाता रहा है, जबकि एक बड़ा वर्ग आज भी इसके लाभ से वंचित है| वर्तमान व्यवस्था ही ऐसी है कि इसका सम्पूर्ण दोहन मात्र कुछ एक लोग ही बार-बार पीढ़ियो से कर रहे है। योग्यता एक अभिशाप हो चुकी है और देश में अपनी उपेक्षा के कारण विदेश पलायन को मजबूर है।

महोदय, आपसे हम यह मांग करते हैं कि –
1. पदोन्नति में आरक्षण की व्यवस्था पूर्णरूप से समाप्त की जावे|
2. अन्य पिछड़ा वर्ग की भांति अनुसूचित जाति/जनजाति के लिए भी क्रिमीलियर लागू हो|
3. एट्रोसिटी एक्ट में मान. सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश यथावत लागू हों|
4. जिन लोगो ने मान. सर्वोच्च न्यायालय के आदेशो की अवहेलना के लिए देश की संपत्ति को हानि पहुंचाई उन पर कड़ी कार्यवाही की जाये।
5. इस देश में शिक्षा का समान अधिकार लागू है तदानुरूप शिक्षा में भेदभाव पूरी तरह बंद हो।
हमारा आपसे निवेदन है कि उपरोक्तानुसार संविधान सम्‍मत व्‍यवस्‍था सुनिश्चित करने हेतु तत्‍काल दखल देवें।

महामहिम राष्ट्रपति महोदय को ज्ञापन भेजने के साथ-साथ आज सदस्यता अभियान भी प्रारंभ किया गया भोपाल कार्यालय में MP वेयरहाउस के श्री नीरज गुप्ता, स्वास्थ्य विभाग से श्री पद्माकर त्रिपाठी MPBSE श्याम सिंह ठाकुर तथा मंत्रालय से श्री प्रदीप मणि के नेतृत्व में उनके विभाग के साथियों के साथ सपाक्स की सदस्यता ग्रहण की तथा हस्ताक्षर अभियान में हस्ताक्षर किए।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->