Loading...

SATNA: बबली डाकू की तलाश में जंगल गया जवान लापता

चित्रकूट/सतना। डकैत बबली गैंग के जंगल में होने की सूचना पर कॉम्बिंग में गया एसएफ का जवान लापता हो गया है। लापता जवान का नाम सचिन पाण्डेय बताया जा रहा है और वह बगदरा घाटी पोस्ट पर तैनात था। जवान के लापता होने की सूचना मिलते ही आधा दर्जन थाना क्षेत्रों की पुलिस फ़ोर्स जवान की तलाश में जुट गई, लेकिन इसके बावजूद 24 घंटे बाद भी जवान का पता नहीं चल पाया है। चौंकाने वाली बात यह है कि एसडीओपी के नेतृत्व में गया जवान लापता हुआ और एसडीओपी को पता भी नहीं चला। 

डकैत बबली गैंग की तलाश में थरपहाड़ जंगल में मझगवां और नयागांव थाना की पुलिस गई हुई थी। टीम का नेतृत्व SDOP चित्रकूट अलोक शर्मा कर रहे थे। जंगल में सर्चिंग के दौरान गर्मी व धूप के चलते कई जवानों की तबीयत बिगड़ गई थी। इन जवानों का कॉम्बिंग के बाद इलाज करवाया गया। बताया गया है कि कॉम्बिंग में आत्मरक्षा और आवश्यक चिकित्सा के पर्याप्त इंतजाम नहीं थे। जबकि डकैतों की तलाश और सफाए के लिए बजट की कमी नहीं है। 

बता दें कि करीब एक साल पहले अगस्त 2017 में बबली डाकू ने उत्तरप्रदेश के चित्रकूट इलको में निही चिरैया जंगल में हुई मुठभेड़ में सब इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह की हत्या कर दी थी। डकैतों की गोली लगने से घायल जेपी सिंह को इलाज के लिये अस्पताल ले जाया गया था। मानिकपुर अस्पताल में डाक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था। 
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com