मंत्री का दर्जा प्राप्त संत भय्यूजी महाराज ने खुद को गोली मारी, मौत

12 June 2018

इंदौर। देश के प्रख्यात आध्यात्मिक गुरु, सामाजिक कार्यकर्ता एवं मध्यप्रदेश के दर्जा प्राप्त मंत्री भय्यूजी महाराज ने मंगलवार को कथित तौर पर खुद को गोली मार ली। उन्हें घायल अवस्था में इंदौर के बॉम्बे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है, जहां उनकी मौत हो गई है। घटना के कारण का पता नहीं चल सका है। अस्पताल में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है। बता दें कि भय्यूजी राजनीति में गहरी पैठ रखते थे। 

भय्यूजी महाराज को राजनीतिक रूप से ताकतवर संतों में गिना जाता था। उनका असली नाम उदयसिंह देशमुख है और उनके पिता महाराष्ट्र में कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे हैं। उनका नाम तब चर्चा में आया था, जब भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन के दौरान भूख हड़ताल पर बैठे अन्ना हजारे को मनाने के लिए यूपीए सरकार ने उनसे संपर्क किया था। 

मध्यप्रदेश के कई राजनीतिक उलझनों को सुलझाने में उन्होंने मध्यस्थ की भूमिका निभाई है। बताया जाता है कि उनके संपर्क भाजपा और कांग्रेस दोनों पार्टियों के दिग्गज नेताओं से थे। भय्यूजी महाराज की प्राइवेट लाइफ भी कुछ फिल्मी थी। उनकी शादी भी सुर्खियों में रही थी। फिलहाल पुलिस को उनके पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। 
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->