Loading...

जिस नरेंद्र मरावी ने कांग्रेस ज्वाइन की वो हिमाद्री के पति नहीं हैं

भोपाल। सोशल मीडिया पर खबर चल रही है कि शहडोल में कांग्रेस नेत्री हिमाद्री सिंह के भाजपा नेता पति नरेंद्र मरावी ने कांग्रेस ज्वाइन कर ली है परंतु ऐसा नहीं है। अभिषेक साहू ने भोपाल समाचार को बताया कि जिस नरेंद्र सिंह मरावी ने कांग्रेस ज्वाइन की है वो भाजपा नेता तो हैं परंतु हिमाद्री सिंह के पति नहीं है। कांग्रेस ज्वाइन करने वाले नरेंद्र जिला पंचायत के अध्यक्ष हैं जबकि हिमाद्री सिंह के पति नरेंद्र मरावी राज्य अनूसूचित जन जाति आयोग के अध्यक्ष हैं। दोनों के नाम एक हैं लेकिन पद अलग अलग हैं। नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने भी इसकी पुष्टि कर दी है।

क्यों चर्चित है हिमाद्री की लव स्टोरी

यह शहडोल की एक चर्चित लव स्टोरी है। 2009 में भाजपा नेता नरेंद्र सिंह मरावी को लोकसभा प्रत्याशी बनाया गया। कांग्रेस की ओर से राजेश नंदिनी सिंह को प्रत्याशी बनाया गया। नरेंद्र यह चुनाव तो हार गए लेकिन अपनी प्रतिस्पर्धी राजेश नंदिनी सिंह की बेटी हिमाद्री सिंह का दिल जीत गए। सांसद राजेश नंदिनी सिंह अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाईं। उपचुनाव आए तो कांग्रेस ने हिमाद्री को प्रत्याशी बनाया लेकिन शिवराज सिंह ने अपने मंत्री ज्ञान सिंह को उतार दिया। चुनाव के बाद नरेंद्र सिंह ने हिमाद्री से विवाह कर लिया। 

जिला पंचायत अध्यक्ष नरेंद्र सिंह मराबी, शिवराज सिंह सरकार से नाराज चल रहे थे। शुक्रवार को उन्होंने नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह की उपस्थिति में भोपाल में कांग्रेस की सदस्यता ले ली। अजय सिंह ने कहा, उनके संपर्क कई भाजपा नेता हैं, उन्हें भी पार्टी की सदस्यता दिलाई जाएगी। नरेंद्र मरावी ने कहा कि वह बोल लेते हैं, इसलिए खुलकर विरोध में आए हैं। बाकी जो पार्टी में हैं वह विकलांग हैं। जिला पंचायत अध्यक्ष ने यह भी कहा कि वह कोई कोयला व रेत का व्यवसाय कर रहे हैं कि सरकार से डरेंगे। जनता के लिए प्रतिनिधि बनकर आए थे, लेकिन सरकार में उनकी बात नहीं सुनी जा रही है इसलिए अब कांग्रेस में जा रहे हैं।

BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com