ग्वालियर| इकतरफा सेवा समाप्ति से दुखी दिहाड़ी कर्मचारी ने किया आत्मदाह, मौत

08 June 2018

ग्वालियर। राजमाता विजयाराजे सिंधिया कृषि विश्वविद्यालय में एक दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी को एकतरफा कार्रवाई करते हुए सेवा से प्रथक कर दिया गया। वो 5 साल से काम कर रहा था। उसने प्रबंधन से सुनवाई का एक अवसर देने का निवेदन किया परंतु प्रबंधन ने उसकी सुनवाई नहीं की अंतत: दुखी कर्मचारी ने आत्मदाह कर लिया। उसे इलाज के लिए दिल्ली ले जाया गया लेकिन उसकी मौत हो गई। कर्मचारी दिनेश परिहार ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है जिसमे उसके साथ हो रही प्रताड़ना का जिक्र है लेकिन पुलिस ने समाचार लिखे जाने तक किसी के खिलाफ नामजद मामला दर्ज नहीं किया है। 

घटना के विरोध में विश्वविद्यालय के कर्मचारी यूनियन और छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और जिला प्रशासन के अफसर विद्यालय पहुंच गए। बाद में सभी पक्षों को बुलाकर बैठक की गई जिसमें तय किया गया कि दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी अरुण परिहार के इलाज का पूरा खर्चा विश्वविद्यालय प्रशासन उठाएगा। साथ ही 175 दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों हाजिरी रजिस्टर पर नियमित हस्ताक्षर लिए जाएंगे। मौत की खबर आने के बाद एक बार फिर प्रदर्शन शुरू हो गया है। 

अरुण परिहार कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में विश्वविद्यालय में पिछले 5 सालों से पदस्थ था लेकिन उसे विश्वविद्यालय प्रशासन ने 1 जून को सेवा से पृथक कर दिया था। कर्मचारियों ने इसको लेकर विद्यालय प्रबंधन पर अपना निर्णय वापस लेने के लिए निवेदन किया था लेकिन विश्वविद्यालय ने इस पर कोई फैसला नहीं किया। नतीजतन डिप्रेशन में आए अरुण में बीती रात कमरे में बंद करके खुद को आग लगा ली। उसे तड़के दिल्ली रेफर किया गया। जहां उसकी मौत हो गई। 
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week