CS बसंत प्रताप सिंह के एक्सटेंशन से नाराज ACS हड़ताली छुट्टी पर! - Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh)

Bhopal की ताज़ा ख़बर खोजें





CS बसंत प्रताप सिंह के एक्सटेंशन से नाराज ACS हड़ताली छुट्टी पर!

24 June 2018

भोपाल। जो कुछ हुआ उसे एक तरह से स्ट्राइक का अनाउंसमेंट कहा जा सकता है। भारतीय प्रशासनिक सेवा स्तर के अफसर आम कर्मचारियों की तरह हड़ताल नहीं करते। वो बस छुट्टी पर चले जाते हैं। मुख्य सचिव बसंत प्रताप सिंह को मिल छह माह का एक्सटेंशन मामले में भी ऐसा ही हुआ। वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव एपी श्रीवास्तव ने छुट्टी पर जाने की तैयारी कर ली है। शनिवार को उन्होंने दो फाइलों पर लिख दिया कि मैं छुट्टी पर जा रहा हूं। अब फाइलें मेरे सक्सेसर (उत्तराधिकारी) के पास ही ले जाएं। बता दें कि बसंत प्रताप सिंह के बाद मुख्य सचिव पद के लिए श्रीवास्तव सबसे प्रमुख दावेदार हैं, क्योंकि दोनों ही 1984 बैच के हैं।  

पहले भी टल गई थी श्रीवास्तव की नियुक्ति

बीपी सिंह को छह माह का एक्सटेंशन मिलने के बाद इसी बैच की आईएएस अधिकारी व प्रशासन अकादमी की महानिदेशक कंचन जैन अगस्त में, केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर विजय श्रीवास्तव अक्टूबर में रिटायर हो जाएंगे। इसी बैच के आलोक श्रीवास्तव भी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं, लेकिन उनके पास समय हैं। इसलिए अब एपी श्रीवास्तव प्रमुख दावेदार हुए। मंत्रालय सूत्रों का कहना है कि जब सिंह को मुख्य सचिव बनाया गया था, तब भी एपी श्रीवास्तव का नाम तेजी से उभरा था। तब श्रीवास्तव को यह आश्वासन दिया गया था कि सिंह का कार्यकाल पूरा होने के बाद उनपर विचार होगा। लेकिन ऐसा नहीं हुआ और सिंह को एक्सटेंशन मिल गया। 

सवालों पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी

बहरहाल, अवकाश पर जाने को लेकर श्रीवास्तव से पूछा गया तो उन्होंने इस मसले पर कोई भी टिप्पणी करने से मना कर दिया। इधर, कहा जा रहा है कि अपर मुख्य सचिव वित्त ने पारिवारिक कार्यक्रम काे आधार बताया है। यह भी इसमें जोड़ा है कि विधानसभा सत्र में अनुपूरक का काम हो गया है। इसलिए लंबी छुट्टी पर जाना है।
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->