मुरैना में आंधी: निर्माणाधीन इमारत गिरी, 1 मौत, 7 घायल, मिजोरम में बाढ़, चारों तरफ तबाही

13 June 2018

नई दिल्ली। प्रदेश के अन्य जिलों में सक्रिय प्री-मानसून का असर शनिवार को मध्यप्रदेश के ग्वालियर चंबल में दिखाई दिया। मुरैना में शाम चार बजे अचानक बादल छाए और तेज हवाओं के साथ झमाझम बारिश हुई। आंधी के दौरान एक निर्माणाधीन मकान की चौथी मंजिल बगल के मकान पर जा गिरी, जिसमें एक छह माह की बच्ची की मौत हो गई और सात लोग घायल हो गए। घायलों में से चार को गंभीर हालत में ग्वालियर रेफर किया गया है। इसके अलावा मिजोरम में तेज आंधी और बारिश के कारण इलाकों में पानी भर गया। हजारों लोग फंस गए हैं। रेस्क्यू आॅपरेशन शुरू कर दिया गया। 150 लोगों को बचा लिया गया। 

बाढ़ में डूब रहा है मिजोरम


मिज़ोरम में आंधी-तूफान और बारिश ने बड़े स्तर पर तबाही मचाई है। रविवार से हो रही बारिश की वजह से तमाम इलाके पानी में डूब गए हैं। कई जगह खेत भी पानी में डूब चुके हैं और बाढ़ का पानी लगातार बढ़ता जा रहा है। राजधानी आइजोल को जोड़ने वाली कई सड़कें टूट गई हैं। बिजली की तार के खंभे गिर गए हैं। तमाम सरकारी कार्यालयों को भी नुकसान पहुंचा है। लेंगपुई एयरपोर्ट की तरफ जाने वाली सड़क (NH 54) भी मिट्टी धंसने की वजह से ब्लॉक हो गई है। इस सड़क को दोबारा दुरुस्त करने का प्रयास किया जा रहा है। दूसरी तरफ, तूफान और बारिश के बाद पैदा हुई स्थिति से निपटने के लिए राज्य के आपदा प्रबंधन विभाग समेत अन्य विभागों ने कमर कस ली है। प्रभावित इलाकों में राहत और बचाव कार्य जारी है। भारी बारिश के बाद आई बाढ़ में राज्य के लुंगलेई जिले में फंसे 150 परिवारों को अब तक सुरक्षित निकाला गया है।

16 जून तक बढ़ता रहेगा खतरा


गौरतलब है कि मौसम विभाग ने मिजोरम में 12-16 जून तक भारी बारिश की आशंका जताई है। यानी अगले तीन दिनों तक भी राज्य में बारिश की स्थिति बनी रह सकती है। इससे खासकर निचले इलाकों में हालत और बिगड़ सकती है। आपको बता दें कि 3 दिन पहले दक्षिण पश्चिमी मानसून के उत्तर दिशा की ओर तेजी से बढने के बीच देश के पश्चिमी तट पर भारी बारिश हुयी थी। मौसम विभाग ने मछुआरों को गहरे समु्द्र में नहीं जाने की सलाह दी थी। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, तटीय कर्नाटक, गोवा और दक्षिणी कोंकण क्षेत्र में भारी बारिश हुयी। इसके अलावा नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, केरल, महाराष्ट्र में कुछ स्थानों पर बहुत भारी बारिश हुयी।
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...