जबलपुर: बेटी ने की पिता की हत्या फिर माँ के पास आकर सो गई

Wednesday, June 27, 2018

जबलपुर। मध्यप्रदेश में लड़कियों की आपराधिक गतिविधियां तेजी से सामने आ रहे हैं। भोपाल में राजधानी के एक बड़े अधिकारी की बेटी द्वारा एलएन मेडीकल कॉलेज में ड्रग सप्लाई का खुलासा हुआ है तो यहां एक नाबालिग लड़की ने अपने ही पिता का मर्डर कर दिया। यह हत्या सिर्फ इसलिए की क्योंकि पिता उसके प्यार में रोड़ा बन गए थे। कहते हैं हत्या करने के बाद क्रूर से क्रूर अपराधी का मन भी विचलित हो जाता है और उसे सामान्य होने में काफी वक्त लगता है परंतु इस घटना में लड़की ने पिता की हत्या की और फिर माँ के पास आकर ऐसे सो गई जैसे उसे कुछ पता ही ना हो। 

पूरा हत्याकांड प्लानिंग के साथ हुआ। योजना के मुताबिक बेटी ने पहले घरवालों के खाने में नींद की गोलियां मिलाई फिर रात में परछी में सो रहे पिता की गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी। किसी को शक न हो इसलिए वारदात के बाद आरोपित बेटी चुपचाप बल्ब बंद करके घर में पहुंची और माँ के बगल में सो गई। पुलिस ने 21 जून की रात बेलखेड़ा के मैली गांव में हुई भोलाराम गोंड की हत्या का सनसनीखेज खुलासा किया तो एकबारगी किसी को यकीन नहीं हुआ। पुलिस ने सिलसिलेवार हत्या की परत-दर-परत खोलना शुरू किया तो सुनने वाले दंग रह गए।

पुलिस ने बताया कि कुआंखेड़ा निवासी अधिवक्ता दयाराम रजक के खेत में परछी बनाकर वर्षों से रह रहे कुसली गांव निवासी भोलाराम की 17 वर्षीय बेटी का पड़ोस के खेत में रखवाली करने वाले मैली गांव निवासी नेपाल सिंह लोधी से प्रेम संबंध था। इसकी जानकारी होने पर भोलाराम ने बेटी को फटकार लगाई थी। यह बात बेटी ने प्रेमी को बताई तो उसने भोलाराम को रास्ते से हटाने की योजना बना डाली। पुलिस ने आरोपित किशोरी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।

मोबाइल से हत्या का खुलासा 
अंधी हत्या की जांच के दौरान पुलिस को एक मोबाइल के बारे में जानकारी मिली। मृतक के रिश्तेदार हल्केभाई गोंड ने बताया कि वह पास के ही खेत की तकवारी करता है। 21 जून की सुबह भोलाराम को घर में एक मोबाइल मिला था। भोलाराम ने घरवालों से भी मोबाइल के बारे में पूछताछ की थी, लेकिन सभी ने उसके बारे में जानकारी होने से इंकार कर दिया था। इस जानकारी के बाद पुलिस ने मोबाइल किसका है इसकी पुष्टि के लिए मृतक के परिजन से पूछताछ शुरू की।

पूछताछ में बेटी ने कबूला सच
पुलिस ने भोलाराम के परिजन से मोबाइल के बारे में पूछताछ की तो मृतक की नाबालिग बेटी की हरकतें संदिग्ध लगीं। पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने कुल्हाड़ी से पिता की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया। आरोपित किशोरी ने बताया कि उसका नेपाल सिंह से प्रेम संबंध है। दोनों के रिश्ते के बारे में उसके परिजन को पता चल गया था। नाराज पिता ने उसे जमकर खरी-खोटी भी सुनाई थी।

नींद की गोलियां देकर मिलने आया करो
किशोरी ने यह बात नेपाल सिंह को बताई, तो उसने कहा कि अपने परिजन के खाने में नींद की गोलियां मिलकर देने के बाद उससे मिलने आया करे। 21 की सुबह भोलाराम को जो मोबाइल मिला था उसे नेपाल सिंह ने ही किशोरी को दिया था।

शाम को नेपाल सिंह ने बनाई हत्या की योजना
किशोरी ने मोबाइल घरवालों के हाथ लगने की बात 21 जून की शाम नेपाल सिंह को बताई। साथ ही यह भी कहा कि परिजन को शक हो गया है, इसलिए अब वह उससे मिलने नहीं आएगी। इतना सुनते ही नेपाल सिंह ने उसे रोका और पिता को रास्ते से हटाने की साजिश रच डाली। योजना के मुताबिक किशोरी ने रात में खाना बनाते समय चुपके से उसमें नींद की गोलियां मिला दी।

पिता की हत्या के बाद मां के पास आकर सो गई
किशोरी ने प्रेमी की बनाई योजना के मुताबिक ही काम किया। रात तकरीबन 11:30 बजे नींद की गोली का असर परिजन पर होने के बाद किशोरी चुपचाप उठी और परछी में पहुंच गई। कोई उसे देख न ले इसलिए उसने पहले बल्ब बंद किया फिर पिता की गर्दन पर कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी। वारदात के बाद किशोरी ने पास के एक खेत में जाकर कुल्हाड़ी छिपा दी। फिर मां के बगल में सो गई। पुलिस ने किशोरी और आरोपित नेपाल सिंह (29) को गिरफ्तार कर लिया है।
इसी तरह की खबरें नियमित रूप से पढ़ने के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week