महंगा होने वाला है HOME LOAN, प्रोसेस में है तो फटाफट फाइनल कर लें

06 June 2018

भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बुधवार को रेपो रेट में कटौती को लेकर फैसला लेगी। हालांकि इससे पहले भारतीय स्टेट बैंक, icici bank समेत अन्य ने MCLR रेट में बढ़ोतरी कर दी है। इससे आपके लिए होम लोन लेना महंगा हो सकता है। भारतीय स्टेट बैंक ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) में 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। नई दरें 1 जून से लागू हो गई हैं। तीन महीने का एमसीएलआर रेट 7.95 फीसदी हो गया है। वहीं, छह महीने का एमसीएलआर रेट 8.1 फीसदी कर दिया गया है। इसी तरह अन्य अवधि के लिए भी इसमें बढ़ोतरी की गई है। 

वहीं, पंजाब नेशनल बैंक की बात करें, तो इसने भी एमसीएलआर रेट में 10 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। वहीं छह महीने की अवध‍ि के एमसीएलआर में 0.5 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। छह महीने के लिए यह पहले जहां 8.25 फीसदी था, अब 8.30 फीसदी है। इसी तरह एक साल के रेट को भी 8.30 फीसदी से बढ़ाकर 8.40% कर दिया गया है। तीन साल के लिए अब 8.55% और 5 साल के लिए 8.70 फीसदी एमसीएलआर रेट तय किया गया है। इसी तरह एचडीएफसी, कोटक बैंक और आईसीआईसीआई बैंक ने एमसीएलआर रेट में बढ़ोतरी की है।

क्या है MCLR रेट?
मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) अप्रैल, 2017 से लागू किया गया है। इस व्यवस्था के तहत अलग-अलग ग्राहकों के लिए लोन की ब्याज दरें उनकी रिस्क प्रोफाइल के आधार पर तय की जाती हैं। यह वह रेट होता है, जिसके नीचे बैंक अपने ग्राहकों को कर्ज नहीं दे सकते।

कैसे तय होता है MCLR रेट?
मार्जिनल का मतलब होता है-सीमांत अथवा अतिरिक्त। जब भी बैंक लोन देने के लिए लेंडिंग रेट तय करते हैं, तो वे बदली हुई स्थ‍िति का खर्च और मार्जिनल कॉस्ट को भी कैल्कुलेट करते हैं।बैंकों के स्तर पर ग्राहकों को डिपोजिट पर दिए जाने वाली ब्याज दर शामिल होती है। MCLR को तय करने के लिए 4 फैक्टर को ध्यान में रखा जाता है। इसमें: 
फंड का अतिरिक्त चार्ज
निगेटिव कैरी ऑन कैश रिजर्व रेश‍ियो
ऑपरेशनल कॉस्ट
टेन्योर प्रीमियम
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...