खरगोन: रेप पीड़िता से पुलिस ने पूछा: 3 लोग रेप कैसे कर सकते हैं और भगा दिया | MP NEWS

07 May 2018

KHARGON (BHOPAL SAMACHAR)। भीकनगांव क्षेत्र की आदिवासी नाबालिग लड़की का आरोप है कि गांव के 3 लोगों ने उसके साथ बलात्कार किया और धमकाकर भगा दिया। वो चुप थी परंतु घटना के 10 माह बाद उसकी तबीयत खराब हो गई। परिजन डॉक्टर के पास ले गए तो पता चला कि लड़की गर्भवती है। यह जानकर उसके माता पिता लड़की को थाने ले गए लेकिन वहां मामला दर्ज ही नहीं किया गया। परिजनों का आरोप है कि भीकमगांव थाने में मौजूद एसआई साधना पुरे का कहना है भला 3 लोग कैसे दुष्कर्म कर सकते हैं। उनकी शिकायत दर्ज न करते हुए उन्हें रवाना कर दिया। न्याय की आस में परिजन व पीड़िता एसपी डी कल्याण चक्रवर्ती के पास पहुंचे। 

पीड़िता ने बताया 10 माह पहले मैं आरोपी राकेश (40) के घर शक्कर उधार लेने गई थी। राकेश ने दरवाजा बंद कर मुंह दबाकर दुष्कर्म किया। उसने जान से मारने दी धमकी दी। आठ दिन बाद सुबह 6 बजे खेत जाने के दौरान ही पवन व उसके साथी अखिलेश ने मुझे पकड़ा और खेत में दुष्कर्म किया।

हम तो बात कर रहे थे, वो खुद ही एसपी के पास चले गए
बीते शनिवार को तेज पेट दर्द होने लगा। डॉक्टर के पास पहुंचे तो उसने गर्भवती होना बताया। भीकनगांव थाने में शिकायत करने गए तो वहां की पुलिस ने कहा- तीन लोग दुष्कर्म कैसे कर सकते हैं। हमारी शिकायत दर्ज नहीं की। इसके बाद एसपी कार्यालय में शिकायत की। मामले में एसआई साधना पुरे ने कहा- पूर्व में छेड़छाड़ व पास्को एक्ट में आरोपी अखिलेश पर केस विचाराधीन है। पीड़िता व माता से चर्चा कर रहे थे। उसके पिता आए और उन्हें एसपी साब के पास शिकायत करने का बोलकर ले गए।

गंभीर केस में तत्काल एफआईआर के आदेश है
दुष्कर्म सहित गंभीर मामलों में तत्काल एफआईआर के आदेश है। इसके बावजूद भीकनगांव पुलिस ने पीड़िता की शिकायत दर्ज नहीं की। परिजनों ने बताया साढ़े पांच से छह माह का गर्भ है।

FIR दर्ज होगी
पीड़िता और उसके परिजनों ने एसपी कार्यालय में शिकायत की है। मामले में एफआईआर दर्ज करेंगे। एसआई साधना पुरे से भी कारण पूछेंगे।
दिलीप बिलवाल, प्रभारी एएसपी

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week