कांग्रेस को अब भी राहुल गांधी पर भरोसा, मिशन छत्तीसगढ़ शुरू

16 May 2018

नई दिल्ली। गुजरात के बाद कर्नाटक में शर्मनाक हार के बावजूद कांग्रेस को अब भी राहुल गांधी पर भरोसा है। पार्टी के रणनीतिकारों को लगता है कि राहुल गांधी मतदाताओं को प्रभावित कर सकते हैं और चुनाव जिताने में मददगार साबित हो सकते हैं। अभी कर्नाटक में सरकार का गठन नहीं हो पाया है और राहुल गांधी के लिए मिशन छत्तीसगढ़ की तैयारियां शुरू कर दीं गईं हैं। इसके बाद वो राजस्थान भी जाएंगे। 

छग में 17 मई को होगा चुनाव अभियान का ऐलान

खबर आ रही है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी उन तीन राज्यों के लिए रणनीति बनाने में लगे हुए हैं, जहां इस साल के आखिर में चुनाव होने हैं और जहां तीनों राज्यों में इस वक्त बीजेपी की सरकार हैं. इन राज्यों के नाम हैं- मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान। राहुल गांधी गुरुवार 17 मई से छत्तीसगढ़ के दो दिन के दौरे पर जा रहे हैं। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि कांग्रेस और बीजेपी के बीच असली मुकाबला अब शुरू हुआ है। 

कांग्रेस की नई दलील

कांग्रेसी रणनीतिकारों का कहना है कि 2014 लोकसभा चुनाव के बाद जितने भी राज्यों में चुनाव हुए हैं उनमें गुजरात और पंजाब को छोड़कर कहीं भी बीजेपी सत्तारूढ़ नहीं थी लेकिन इस साल के आखिर में मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में चुनाव होने हैं जहां तीनों ही राज्यों में बीजेपी सत्ता में है। इन तीनों ही राज्यों में कांग्रेस और बीजेपी में मुकाबला होना है।

हार के बावजूद ब्रैंड राहुल गांधी मजबूत हुआ है


छत्तीसगढ़ के लिए कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा, ‘कर्नाटक में पार्टी के प्रदर्शन के बावजूद ब्रैंड राहुल गांधी मजबूत हुआ है। हमारा वोट शेयर कर्नाटक में बीजेपी से ज्यादा रहा है। बीजेपी ये अच्छी तरह जान रही है कि उसे विपक्षी खेमे में राहुल गांधी की ओर से पूछे जाने वाले सवालों का जवाब देना मुश्किल होता जा रहा है। इसलिए वो उनके सार्वजनिक कार्यक्रमों में बाधा खड़ी करने की कोशिश करते हैं।

छत्तीसगढ़ में विकास खोजो यात्रा

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री रमन सिंह के नेतृत्व में बीजेपी सरकार दिसंबर 2003 से सत्तारूढ़ है। 15 साल से प्रदेश की कमान संभालने वाले रमन सिंह ने ‘विकास यात्रा’ की शुरुआत की है। इसे विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के प्रचार अभियान की शुरुआत बताया जा रहा है। रमन सिंह की इसी यात्रा के जवाब में कांग्रेस की छत्तीसगढ़ यूनिट ने रविवार से दंतेवाड़ा से ‘विकास खोजो यात्रा’ शुरू की है। बता दें कि गुजरात चुनाव में 'विकास पागल हो गया' वायरल हुआ था। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पार्टी के विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के साथ बूथ कमेटी के सदस्यों से भी सीधे संवाद करेंगे।

कांग्रेस के पास समर्पित कैडर नहीं इसलिए हारे


पुनिया ने कहा, ‘कांग्रेस के पास समर्पित कैडर नहीं था जिसकी वजह से 2014 लोकसभा चुनाव और कुछ राज्यों के चुनाव में पार्टी को बहुत नुकसान हुआ। यही वजह है कि राहुल गांधी ने सभी राज्य प्रभारियों और नेताओं को निर्देश दिए हैं कि बूथ प्रबंधन और संगठन मजबूत बनाने के काम को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जानी चाहिए। यही वजह है कि वे (राहुल) बूथ स्तरीय कमेटी सदस्यों के साथ मुलाकात करेंगे।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week