चुनाव आयोग की जानकारी लीक, BJP को पहले से पता थी कर्नाटक चुनाव की तारीख | NATIONAL NEWS

27 March 2018

बेंगलुरु। चुनाव आयोग के सामने मंगलवार को कर्नाटक विधानसभा चुनाव की तारीख का एलान करते वक्त असहज स्थिति बन गई। वे वोटिंग के दिन का एलान करते उससे पहले एक जर्नलिस्ट ने उन्हें बताया कि सोशल मीडिया पर कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होने की तारीख वायरल हो रही है। भारतीय जनता पार्टी का आईटी सेल कैसे ये जानकारी सोशल मीडिया पर दे रहा है। भाजपा आईटी सेल हेड अमित मालवीय ने अपने ट्विटर पर करीब 20 मिनट पहले ही बता दिया था कि इसी तारीख को चुनाव होंगे। दावा सही निकला तो कांग्रेस ने विरोध जताया। पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके भाजपा को सुपर इलेक्शन कमीशन तक बता दिया।

चुनाव आयोग के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ
मुख्य चुनाव आयुक्त ओपी रावत ने 11 बजे प्रेस कॉन्फेंस शुरू की। पहले चुनावी प्रक्रिया की जानकारी दी। करीब 20 मिनट गुजरे होंगे कि वहां मौजूद पत्रकारों को सोशल मीडिया से चुनाव की तारीखें मिलने लगीं। यह जानकारी भाजपा के आईटी सेल के हेड अमित मालवीय ने दी थी।

इस पर रावत से सवाल किया गया। उन्होंने कहा कि वे इसका पता लगाएंगे। इसके बाद उन्होंने अधिसूचना की तारीख 17 अप्रैल और मतदान की तिथि 12 मई बताई। तब पत्रकारों ने एक सुर में कहा कि चुनाव आयोग के इतिहास में पहली बार हुआ है कि आयोग के एलान से पहले चुनाव की तारीखें लीक हो गईं। यह एक गंभीर मामला है। क्या आयोग इस मामले में कोई कार्रवाई करेगा। रावत ने फिर कहा कि पहले तथ्यों को सामने आने दीजिए फिर कार्रवाई की जाएगी।

भाजपा के अमित मालवीय ने क्या ट्वीट किया?
अमित मालवीय ने अपने ट्वीट में लिखा, "कर्नाटक में 12 मई को चुनाव होंगे। 18 मई को नतीजे आएंगे। वोटिंग की तारीख सही निकली, लेकिन नतीजों की गलत। नतीजे 15 मई को आएंगे। मीडिया में खबरें आने के बाद मालवीय ने कहा कि उन्होंने एक अंग्रेजी चैनल में देखकर यह ट्वीट किया था। इसके बाद उन्होंने अपना ट्वीट हटा लिया।

कांग्रेस ने कहा- भाजपा चुनाव आयोग को हुक्म दे रही
कांग्रेस लीडर मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, "अमित मालवीय ने 11 बजे चुनाव की तारीखों वाला ट्वीट किया। इसका मतलब भाजपा मतदान की तारीखों को लेकर चुनाव आयोग को हुक्म दे रही है। मैं अपेक्षा करता हूं कि चुनाव आयोग संविधान और कानून के तहत काम करे और सूचनाएं उजागर न करे। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ।

ये हैं कर्नाटक चुनाव की तारीखें
नामांकन: 17 अप्रैल
नमांकन पत्रों की जांच: 25 अप्रैल
नामांकन वापसी की आखिरी तारीख: 27 अप्रैल
वोटिंग: 12 मई
नतीजे: 15 मई

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->