होलिकादहन: मनोकामना पूर्ति के लिए राशिनुसार ये चीजें अर्पित करें | JYOTISH

Sunday, February 25, 2018

हर बार होलिका दहन फाल्गुन पूर्णिमा को होता है। इस बार होलिका दहन 1 मार्च को भद्रा समाप्ति के बाद शाम 7:10 से किया जा सकता है। इस बार होलीक दहन केतु के नक्षत्र मॆ होगा जो की शनि की राशि मकर मॆ स्थित है। शनि की राशि मॆ चंद्र राशि का स्वामी सूर्य, बुध और शुक्र भी स्थित है। इसीलिये इस बार होलीक दहन मॆ शनि का प्रभाव विशेष रूप से रहेगा। इसलिये आप अपनी सामर्थ्य अनुसार होलिका दहन मॆ मदद करें। अपने इष्ट या भगवान विष्णु से संकट हरने की प्रार्थना करें। आपको निश्चित रूप से लाभ होगा। सभी राशि वाले होलिका की अग्नि मॆ इस वस्तुओं का हवन कर सकते है।

मेष-इस राशि वालों को हरे कपड़े मॆ हरी दाल तथा चिड्चिडा समिधा से हवन करना चाहिये, इससे आपको कष्टों से मुक्ति मिलेगी।
वृषभ-इस राशि वालो को पीले कपड़े मॆ हल्दी तथा खैर और पीपल की लकड़ी होलिकादहन मॆ अर्पण करना चाहिये।
मिथुन-इस राशि वालो को लाल मसूर की दाल लाल कपड़े मॆ लेकर खैर की लकड़ी होलिकादहन मॆ अर्पण करना चाहिये।
कर्क-इस राशि वालो को तेल और शमी की जड़ होलिकादहन मॆ अर्पण करना चाहिये।
सिंह-इस राशि वालों को तेल तथा शमी की जड़ होलीकादहन मॆ अर्पण करना चाहिये।
कन्या-इस राशि वालो को  शमी और खैर की जड़ से होलीका दहन करना चाहिये।

तुला-इस राशि वालो को हल्दी, चनादाल तथा पीपल की लकड़ी से होलीका हवन करना चाहिये।
वृश्चिक-इस राशि वालो को चिड्चिडा और गूलर की लकड़ी से होलिकाहवन करना चाहिये।
धनु-इस राशि वालो को शमी और गूलर की जड़ से होलिका हवन करना चाहिये।
मकर-इस राशि वालो को मदार
तथा पीपल की लकड़ी से होलिकाहवन करना चाहिये।
कुम्भ-इस राशि वालों को पलाश तथा चिड्चिडा की लकड़ी के साथ चावल से होलिकाहवन करना चाहिये।
मीन-इस राशि वालो को मदार की लकड़ी के साथ काले तिल से होलिका हवन करना चाहिये।
उक्त वस्तुओं से हवन करने से आपके कष्टों मॆ कमी आयेगी,ईश्वर कृपा मिलेगी।
*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*
9893280184,7000460931

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week