मप्र पुलिस भर्ती से नाराज उम्मीदवारों को CM शिवराज सिंह का जवाब | MP NEWS

20 February 2018

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शिवपुरी जिले की कोलारस विधानसभा में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जब तक मामा है, तब तक भांजे भांजियों को अपने भविष्य की चिंता करने की जरूरत नहीं है। शिवराज सिंह कोलारस विधानसभा के ग्राम अकझिरी (रन्नोद मंडल) में चुनावी आमसभा को संबोधित कर रहे थे। बता दें कि हाल ही में आए मप्र पुलिस भर्ती परीक्षा के रिजल्ट के बाद प्रदेश के बेरोजगारों में असंतोष बढ़ गया है। सामान्य पदों पर आधे से अधिक दूसरे प्रदेशों के उम्मीदवार चयनित हो गए हैं। कुल 12799 पदों में से मप्र के सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को केवल 1293 पद ही प्राप्त हुए। 

पुलिस भर्ती में मप्र शासन ने अन्य राज्यों के प्रतिभागियों के लिए अधिकतम पदों का नियम खत्म कर दिया। यानी ओपन की सभी सीटों पर को अन्य राज्यों के उम्मीदवारों के लिए चयनित होने का रास्ता खोल दिया गया। जबकि अन्य राज्यों में 5 फीसदी से अधिक बाहरी प्रतिभागियों का चयन नहीं किया जाता है। यह नियम पहले की परीक्षाओं में मध्यप्रदेश में भी लागू था। प्रदेश के प्रतिभागियों का कहना है कि 5 प्रतिशत वाले नियम को पुन: लागू करना चाहिए ताकि उनके साथ अन्याय बंद हो। आरक्षण के बाद बची सीटों पर तो उन्हें पूर्ण अवसर मिल सके। 

पुलिस भर्ती में जीएडी के नियमों का खामियाजा प्रदेश के युवाओं को भुगतना पड़ा है। विसंगति से भरे नियमों का असर यह हुआ कि अन्य राज्यों के उम्मीदवारों ने सामान्य वर्ग के आधे से अधिक पदों पर कब्जा जमा लिया। प्रदेश के जनरल कैटेगरी वाले युवाओं को 5075 में से मात्र 1293 पदों पर ही संतोष करना पड़ा। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->