कभी-कभी चुनाव हारने भी चाहिए: उपचुनाव से पहले CM शिवराज ने कहा | MP NEWS

19 February 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का कहना है कि कई बार उपचुनाव हारना भी फायदेमंद होता है कि अगर कोई कमी है, तो उसे ठीकठाक करके मैदान में उतरें। मैं मध्य प्रदेश में भी कहता हूं कि कभी-कभी चुनाव हारने भी चाहिए कि ऐसा न लगे कि महाराज की जय है और सब कुछ ठीक हो रहा है। कमियों की भी जानकारी आवश्यक है। यह बयान उन्होंने जागरण राउंड टेबल पर राजस्थान उपचुनाव के संदर्भ मेंं आए सवाल पर दिया। 

एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि देश में यह स्थापित होने लगा है कि जो विकास करेगा, वही रहेगा। अब नारों के दम पर चुनाव नहीं जीता जाता है। एक जमाना था जब गरीबी हटाओ जैसे भावुक नारे के दम पर सत्ता पर मिल जाती थी। अब जनता काम की कसौटी पर कसती है, तो हमें भरोसा रहता है कि वोट भाजपा को पड़ेगा। 

हमने काम किया है यह जनता मानती है। उनकी अपेक्षाओं पर खरा उतरते हुए काम किया है यह जनता जानती है। हम आश्र्वस्त हैं। रही बात दो सौ सीटों की तो अपेक्षाएं बढ़ना मानवीय स्वभाव है। वह भी पूरा होगा। बता दें कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने टारगेट दिया है कि इस बार मप्र में 200 से ज्यादा सीटें मिलनी चाहिए। 

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->