BJP नेता की बर्थडे पार्टी: लंगर लगाकर बांटी शराब!: वीडियो देखें | BHOPAL MP NEWS

17 February 2018

भोपाल। शराब पार्टियां तो आपने बहुत देखी होंगी परंतु 'दारू का भंडारा' या 'लंगर लगाकर बंटती शराब' कभी नहीं देखी होगी। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में ऐसा हुआ है। भोपाल के उपनगर कोलार की नगरपालिका का पार्षद रविन्द्र यति, जो 2018 विधानसभा चुनाव में टिकट की दावेदारी की तैयारी भी कर रहे हैं, ने अपनी बर्थडे पार्टी में लंगर लगाकर शराब बंटवाई। जी हां, ड्रमों में महंगी अंग्रेजी शराब भरी हुई थी और नेताजी के समर्थक पानी के जंग से लोगों के ग्लास में शराब कुछ इस तरह बांट रहे थे, मानो भंडारे में शीतल जल वितरित हो रहा हो। वीडियो वायरल हो चुका है लेकिन चौंकाने वाली दूसरी बात यह है कि भाजपा के जिलाध्यक्ष सुरेन्द्रनाथ सिंह अब तक पूछताछ कर रहे हैं और प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चुप हैं। 

राष्ट्र, धर्म और चरित्र की बात करने वाली भाजपा के नेता वार्ड नंबर 80 से पार्षद रविंद्र यति ने यह सबकुछ किया महाशिवरात्रि के रोज। जबकि लोग उपवास करते हैं। बीजेपी नेता की पार्टी में नशाखोरी का वीडियो और फोटो दोनों वायरल हो चुके हैं। आलम ये था कि पार्षद के समर्थक पार्टी में ही नहीं सड़क पर भी शराब पीकर हंगामा मचाते नज़र आ रहे हैं। वीडियो वायरल होने से पार्टी की किरकिरी हो रही है।  

वायरल वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि भाजपा पार्षद के समर्थक शराब की बोतलों को एक बड़े से ड्रम में डाल रहे हैं और उसमें पानी मिलाकर लोगों को बांटा जा रहा है। शराब भी इस तरह बंट रही है, जैसे राशन की दुकान पर लोग लाइन में खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे हों।

इस मामले में भाजपा नेता श्री रविन्द्र यति का कोई बयान सामने नहीं आया है। हां उनके कुछ समर्थकों ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि शराब का वितरण उनके जन्मदिन की पार्टी में नहीं बल्कि शिवरात्रि पर आयोजित किसी अन्य समिति के कार्यक्रम में हुआ था। वो यह नहीं बता पाए, यदि शराब का वितरण रविन्द्र यति की पार्टी में नहीं हुआ तो कोलार में कहां हुआ। यह किसकी साजिश है और उसके खिलाफ क्या कोई कानूनी कार्रवाई की गई। 

वीडियो वायरल होने के बाद पार्षद की मुश्किलें बढ़ गई हैं। वह मीडिया से इस बारे में कोई भी बातचीत नहीं कर रहे हैं। इस पूरे मामले पर भाजपा के जिला अध्यक्ष सुरेंद्र नाथ सिंह का कहना है कि वायरल वीडियो और फोटो देखे गए हैं, इससे पार्टी की छवि को धक्का लगा है। इस पूरे मामले पर भाजपा पार्षद से स्पष्टीकरण मांगा जा गया है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week