युवती ने पराए पति से किया प्यार, हुई ठगी का शिकार | CRIME NEWS

Monday, January 22, 2018

इंदौर। पराए पति (MARRIED MALE) को अपना बनाने की कोशिश में इवेंट ऑर्गेनाइजर युवती करीब ढाई लाख रुपए की ठगी का शिकार हो गई। आरोपी एक EVENT में युवती से मिला। उसने युवती को प्रपोज किया। तब युवती को पता नहीं था कि आरोपी शादीशुदा है लेकिन जब दोनों की सगाई हुई उसके बाद युवती को सारी हकीकत पता चल गई, लेकिन प्यार में पागल युवती जालसाज पर भरोसा करती रही। अंतत: युवक ढाई लाख रुपए का चूना लगाकार गायब हो गया। 

घटना मल्हारगंज थाना क्षेत्र की है। पुलिस ने विजयश्री पैलेस निवासी 24 वर्षीय युवती की रिपोर्ट पर आरोपी गगन जिंदल उर्फ गगनदीप सिंह निवासी नेहरू नगर (पीपलेश्वर महादेव मंदिर के पास) के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह इवेंट ऑर्गेनाइजर है। GAGAN JINDAL निजी बीमा कंपनी में मैनेजर है। करीब दो साल पहले INSURANCE COMPANY ने इवेंट करवाया था। इसी दौरान गगन से दोस्ती हुई। गगन ने खुद को अविवाहित बताकर शादी का प्रस्ताव रखा। परिजन से चर्चा के बाद वह शादी के लिए तैयार हो गई।

29 सितंबर 2017 को परिजन और रिश्तेदारों की मौजूदगी में सगाई हुई। इस दौरान पिता ने गगन को उपहार स्वरूप 2 लाख रुपए, सोने की चेन और अंगूठी दी। युवती उसके साथ घूमने लगी। दोनों ने 28 नवंबर को शादी करना तय कर लिया। युवती का आरोप है कि रुपए और गहने लेने के बाद गगन के मन में लालच आ गया। तारीख तय करते ही वह बहाने बनाने लगा। उसने अपने घर वालों से भी नहीं मिलवाया। दबाव बनाया तो मोबाइल बंद कर दिया। परिजन उसके घर पहुंचे तो दोस्त पीयूष ने बताया कि वह इंदौर में नहीं है।

युवती व उसके परिचितों ने छानबीन की तो पता चला कि उसका असली नाम गगनदीप सिंह पिता नाजिर सिंह है। GAGAN DEEP SINGH मूलतः उत्तराखंड (UTTARAKHAND) का रहने वाला है और शादीशुदा है। वह गगन जिंदल पिता जीवनलाल जिंदल बनकर रहता था। टीआई पवन सिंघल के मुताबिक आरोपी ने ठगी के लिए षड्यंत्र रचा था। शादीशुदा होने की जानकारी मिलने पर उसने युवती से कहा था कि वह पहली पत्नी को तलाक दे देगा लेकिन उसके बाद मोबाइल बंद कर लिया। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week