48 के इंजीनियर ने 28 की युवती से की थी शादी, वो देवर के साथ सोने लगी | CRIME NEWS

28 January 2018

पटना। बिहार में इंजीनियर कृष्ण मोहन तिवारी दूसरी शादी के लिए लड़की की तलाश कर रहे थे। 48 साल के सिविल इंजीनियर ने 28 साल की युवती को चुना और शादी कर ली परंतु उम्रदराज और काम में व्यस्त इंजीनियर की बेरुखी ने उसकी पत्नी को बहका दिया। वो घर में ही उपलब्ध हमउम्र देवर के साथ रात बिताने लगी। पति को पता चला तो विवाद शुरू हुआ। जिसक अंत इंजीनियर की मौत के साथ हुआ। प्रेमी युगल अब सलाखों के पीछे है। 

इंजीनियर ने सबकुछ देख लिया था
मामले की जानकारी देते एसपी अशोक कुमार ने बताया कि मृतक इंजीनियर के चचेरे भाई सतीश कुमार तिवारी का इंजीनियर की पत्नी खुशबू तिवारी के साथ पिछले कई वर्षों से अवैध संबंध चल रहा था। कई बार इस बात का विरोध किया गया और एक दिन इंजीनियर ने अपनी पत्नी को अपने भाई के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया जिसके बाद विवाद आगे बढ़ा। पत्नी उसे छोड़ कर अपने प्रेमी देवर के साथ अलग दुनिया बसाने की फिराक में लगी हुई थी।

नई जिंदगी और बीमा रकम बनी हत्या का कारण
इसी बीच उसे पता चला कि इंजीनियर का 50 लाख का बीमा भी था, जिसको हड़पने को लेकर इंजीनियर की पत्नी खुशबू तिवारी अपने प्रेमी सतीश कुमार तिवारी के साथ मिलकर हत्या की योजना बनाई और 4 लोगों के साथ मिलकर गोली मारकर इंजीनियर की दर्दनाक हत्या कर दी गई। इस मामले में कोल्हुआ गांव के सतीश कुमार तिवारी और अजीत कुमार तिवारी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

देवर का क्रिमिनल रिकॉर्ड
मामले में अभी भी दो लोगों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। इस हत्याकांड में गिरफ्तार हुआ इंजीनियर का चचेरा भाई सतीश कुमार तिवारी पहले से ही अपराधी प्रवृत्ति का था और उसके ऊपर छपरा के नगर थाना में एक बच्चे की फिरौती के लिए अपहरण का मामला दर्ज किया गया था।

इंजीनियर पति छुट्टी मनाने आया था
आपको बताते चलें कि बेंगलुरु में इंजीनियरिंग का काम करने वाले कृष्ण मोहन तिवारी छुट्टी मनाने के लिए अपने घर पहुंचे थे और शाम को किसी दोस्त से मिलने के लिए घर से बाहर निकले तभी बीच चौराहे पर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई।

दोनों की उम्र में था 20 साल का डिफरेंस
पूरी घटना को अंजाम प्लानिंग के साथ दिया गया। जिसमें सतीश कुमार तिवारी और अजित कुमार तिवारी अन्य दो अपराधियों के साथ मिलकर गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस के अनुसार मृतक इंजीनियर कृष्ण मोहन तिवारी बेंगलुरु में सिविल इंजीनियर था और खुशबू तिवारी उसकी दूसरी पत्नी थी मृतक इंजीनियर की उम्र 48 वर्ष तो खुशबू की उम्र 28 वर्ष थी और वह शादी के बाद से ही अपने पति से ना खुश थी और अपने चचेरे देवर के साथ प्रेम प्रसंग में पड़ी थी।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Advertisement

Popular News This Week