सिंधिया का आत्मविश्वास डोला, कहा चेहरे का असर ज्यादा नहीं होता | MP NEWS

Monday, December 18, 2017

भोपाल। जिस ज्योतिरादित्य सिंधिया (JYOTIRADITYA SCINDIA) के सहारे मप्र में भाजपा की जमी हुई शिवराज सिंह सरकार को उखाड़े फैंकने की उम्मीद की जा रही है, उन्हीं ज्योतिरादित्य सिंधिया का आत्मविश्वास अब डोल रहा है। बयान गुजरात चुनाव के बाद आया है इसलिए और भी महत्वपूर्ण हो जाता है। उन्होंने बयान दिया है कि 'चुनाव में चेहरा तो 10 प्रतिशत रहता है, बाकी 90 प्रतिशत कार्यकर्ताओं की मेहनत होती है।' इससे पहले तक कहा जा रहा था कि बिना चेहरे के कांग्रेस मप्र में चुनाव नहीं जीत सकती। 

पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि मध्यप्रदेश में चेहरा मैं रहूं या कोई और। चुनाव में चेहरा तो 10 प्रतिशत रहता है, बाकी 90 प्रतिशत कार्यकर्ताओं की मेहनत। उन्होंने कहा कि पार्टी में एकजुटता है। इसी का परिणाम है कि हमने बीते डेढ़ साल में अटेर और चित्रकूट उपचुनाव जीते हैं। आगे मुंगावली और कोलारस उप चुनाव में भी पार्टी की जीत होगी। सिंधिया रविवार को यहां अल्प प्रवास के दौरान मीडिया से चर्चा कर रहे थे। 

सिंधिया से जब यह पूछा गया कि वे राहुल के सबसे विश्वस्त सहयोगी माने जाते हैं, चूंकि राहुल ने पार्टी अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाल ली है, ऐसे में उनकी मध्यप्रदेश में क्या भूमिका होगी या दिल्ली में महत्वपूर्ण भूमिका में रहेंगे? इसके जवाब में सिंधिया ने कहा कि मैं पार्टी का अनुशासित सिपाही हूं, मुझे जो भी जिम्मेदारी दी जाएगी उसका निर्वहन करूंगा। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week