समलैंगिक वेलेंटाइन नहीं मिला तो सुसाइड कर लिया, दीवार पर लिखा I AM GAY | BHOPAL CRIME NEWS

Monday, February 12, 2018

भोपाल। बागसेवनिया में रहने वाले एम्प्री के ट्रेनी रिसर्चर नीलात्पल सरकार 4 दिन से लापता थे। बीते रोज उनका शव भोपाल के तालाब में मिला। घर में जब पुलिस ने तलाशी ली तो दीवार पर 20 नोट चिपके मिले। इसमें उसने सुसाइड की बात भी लिखी है। यह भी लिखा है 'आईएम नोट स्ट्रेट, आईएम गे एंड आईएम प्राउड आॅफ इट।' कुछ अंधविश्वास से जुड़ी बातें भी लिखीं हैं। साथ ही अंतिम इच्छा लिखी है कि उसका अंतिम संस्कार उसके प्यार के हाथों कराया जाए। 27 साल के नीलात्पल की मां डॉक्टर और पिता भेल में एजीएम हैं। 

हरिद्वार निवासी 27 वर्षीय नीलोत्पल सरकार पिता निर्मलेंदू सरकार साकेत नगर में फुलेश्वर साहू के यहां किराए से रहते थे। वे एम्प्री में नैनो टेक्नॉलॉजी में अगस्त 2017 में छह महीने की रिसर्च के लिए आए थे। गत 7 जनवरी की शाम साढ़े 7 बजे उन्होंने बाई को खाना बनाने से मना कर दिया। इसके बाद वे घर से निकल गए, लेेकिन देर रात तक वे घर नहीं लौटे। गुरुवार को भी घर नहीं आने पर मकान मालिक ने बागसेवनिया थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। शनिवार सुबह उनकी लाश राजा भोज की मूर्ति के पास बड़े तालाब में मिली, शिनाख्त फुलेश्वर ने की। हालांकि शव के पास से पुलिस को कुछ नहीं मिला। 

काली मां की मोहलत खत्म हो गई...मैं मरने जा रहा हूं 
सुसाइड नोट में लिखा है कि अक्टूबर 2016 में काली मां ने सपना दिया था। उन्होंने कहा था कि मुझे मेरा जीवन साथी एक साल के अंदर मिल जाएगा, लेेकिन तुम उससे प्यार का इजहार नहीं कर सकते हो। अगर तुमने ऐसा किया तो तुम्हारे प्यार की मौत हो जाएगी। आज 7 फरवरी को वह समय पूरा हो गया है। अब मैं खुदकुशी करने जा रहा हूं। मैं उससे इजहार करूंगा, लेकिन भागवान आप उसे कुछ नहीं करना क्योंकि मैं मरने जा रहा हूं। 

मां ने की थी अपील
बेटा तू कहां है। हम लोग परेशान हैं। पापा बीमार हैं और तुझे याद कर रहे हैं। मैं उन्हें तेरे बारे में नहीं बता सकती हूं। मेरी बात सुन रहे हो तो जहां भी हो, वापस आ जाओ। कोई इशू नहीं है। तुम नहीं आए तो बड़ा लॉस हो जाएगा। वापस आ जाओ। बेटे के गायब होने की खबर सुनने के बाद मां ने लड़खड़ाती आवाज में वीडियो जारी कर बेटे को वापस बुलाने की नाकाम कोशिश की। यह वीडियो उन्होंने नीलोत्पल के फेसबुक पर सुसाइड नोट के साथ जारी वीडियो सामने आने के बाद किया था। 

मैं प्यार से नहीं मिल सका लेकिन उसी के हाथों हो अंतिम संस्कार 
नीलोत्पल की तलाश में उसके घर पहुंचे बागसेवनिया थाने के विवेचना अधिकारी प्रहलाद चंद साहू ने कमरे का ताला तुड़वाया। अंदर पुलिस को दीवार पर 20 नोट्स चिपके मिले। इसमें उसने कुछ यह लिखा- आई एम नॉट स्ट्रेट, आई एम गे एंड आई एम प्रॉउड ऑफ इट। मैं अपने प्यार से नहीं मिल सका, लेकिन मेरी इच्छा है कि मेरा अंतिम संस्कार उसी के हाथों से हो। आई लव यू मैरी मी। इसी तरह उसने कई तरह से नोट लिखकर दीवार पर चिपकाए हंै। हर नोट के नीचे उसने अपना नाम नीलोत्पल लिखा है। 

भेल में एजीएम हैं पिता दिल्ली में चल रहा इलाज 
नीलोत्पल के पिता निर्मलेंदू सरकार भेल हरिद्वार में एजीएम हैं, जबकि मां एमबीबीएस डॉक्टर हैं। निर्मलेंदू का दिल्ली के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है। अब तक निर्मलेंदू को बेटे की मौत की खबर नहीं दी गई है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं


Popular News This Week