SAGAR में साहूकार ने किसान को जिंदा जला दिया

Sunday, August 20, 2017

खुरई/सागर। किसानों को मोटे ब्याज पर कर्ज देने का अवैध कारोबार करने वाले 2 बदमाशों ने यहां एक किसान को जिंदा जला दिया। किसान की लाश उसी के घर में खटिया के साथ जली हुई मिली। इससे पहले उसकी 2.5 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लिया था। अब बाकी की 2.5 एकड़ जमीन भी हथियाना चाहते थे। ग्रामीणों का कहना है कि यह गिरोह गांव में अवैध साहूकारी करता है। जरूरतमंद किसानों को अपने जाल में फंसा लेता है और शराब पिलाकर मनमाने कागजों पर हस्ताक्षर करवा लेता है। इस गिरोह के जाल में फंसकर अब तक 10 से ज्यादा परिवार बर्बाद हो चुके हैं। 

मामला खुरई के निर्तला गांव का है जहां सोमवार की रात में रुपए के लेनदेन के विवाद पर से फरियादी को खटिया सहित पेट्रोल डालकर आग लगा दी थी। फरियादी घायल जालम सिंह पिता निर्भय सिंह कुर्मी जिला चिकित्सालय में भर्ती है। पुलिस ने तीन आरोपियों कल्लू पिता गोविंद लोधी, गुड़ी, भूरा लोधी पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया है। जिसमें से आरोपी कल्लू लोधी को गिरफ्तार कर लिया गया है, दो आरोपी फरार हैं। गांव पहुंचने पर इस घटना में साहूकारी एवं जबरन इकरारनामा लिखवाकर भूमि पर कब्जा करने का मामला सामने आ रहा है। 

घायल जालम सिंह के भतीजे हरलाल सिंह कुर्मी ने बताया कि जालम सिंह के दो बच्चे हैं। कर्ज होने के बारे में परिवार को दो माह पहले ही पता चला। जब खरीफ की फसल की बोवनी के समय 14 जून को आरोपियों ने 50 लोगों के साथ आकर ढाई एकड़ भूमि पर कब्जा कर लिया। उसके बाद ढाई एकड़ भूमि और बची थी। जिसके लिए आरोपी लगातार दबाव बना रहे थे।

चाचा एक बार 90 हजार रुपए एवं दूसरी बार 40 हजार रुपए दे चुके थे। घटना के दिन 14 अगस्त को दोपहर में चाचा जालम सिंह खुरई गए थे। करीब चार बजे आरोपियों से कहा सुनी हुई थी। उसके बाद आरोपियों ने चाचा को शराब पिलाई। वह घर आ गए। रात में करीब 10.30 बजे आरोपी गांव में आ गए। कमरा खुला था। वह बैठे रहे, जमीन पर कब्जा मांग रहे थे। करीब रात 11 बजे खटिया पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी। चाचा ने रुपए कब लिए थे और क्यों लिए थे इसके बारे में किसी को भी ज्यादा जानकारी नहीं है।

शिकायत आएगी तो साहूकारी का मामला भी दर्ज करेंगे
टीआई नीलेश दोहरे का कहना है कि निर्तला गांव में खटिया पर पेट्रोल डालकर जलाने के मामले में तीन युवकों पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। एक आरोपी कल्लू लोधी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दो की तलाश जारी है। रुपए के लेनदेन का विवाद था। आरोपियों द्वारा साहूकारी की आड़ में जमीनें हड़पने की कोई भी शिकायत लेकर आएगा तो उसकी जांच कर मामला दर्ज होगा। 

हरलाल तथा गांव के लोगों ने बताया कि आरोपी साहूकारी का काम करते हैं। वह एक लाख रुपए के दस लाख बना देते हैं। शराब पिलाकर इकरार नामा लिखवाया जाता है। गांव के 10 से ज्यादा परिवार बर्बाद हो चुके हैं। जमीनें आरोपियों ने कब्जे में ले लीं, जिससे वह पलायन करके इंदौर चले गए। अब रामसिंह, हरीसिंह, लक्ष्मी कुर्मी सहित अन्य के घर ताले लटकते नजर आते हैं। कभी इनके पास 5-5 एकड़ से ज्यादा जमीनें थीं। इन्हें भी लगातार शराब पिलाकर इनकी जमीन बिकवा दी गईं। राशि आरोपियों ने ले ली। अब गांव में ताले नजर आ रहे हैं। कुलवाई गांव में 35 एकड़ का किसान अब आरोपियों के यहां हरवाए का काम करता है। शराब के नशे में उसकी भी जमीनें आरोपियों ने कब्जा कर लीं। गांव में अधिकतर लोगों की जमीनें आरोपियों के कब्जे में चली गईं हैं। जिससे लोग गांव छोड़ रहे हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं