टेलेंट के दम पर कोलार से विदेश तक पहुंची, फिर भी ठगों के जाल में फंस गई

Sunday, September 25, 2016

भोपाल। एक महिला डॉ. प्रीति श्रीवास्तव अपने टेलेंट की दम पर कोलार से ओमान तक पहुंची लेकिन दिल में बैठे लालच ने उसे ठगों के जाल में फंसा दिया और 9 लाख रुपए से हाथ धो बैठी। अब पुलिस को मामला दर्ज करा अपने पैसे वापस पाने की कोशिश कर रही है। 

पुलिस के मुताबिक, मस्कट, ओमान निवासी डॉ. प्रीति श्रीवास्तव ने शिकायत की थी कि कोलार इलाके में स्थित आईसीआईसीआई बैंक की शाखा में उनका प्रीमियम एनआरआई खाता है। इस खाते से इंटरनेट बैंकिंग ट्रांजेक्शन के जरिए 9 लाख रुपए अवैध तरीके से निकाल लिए गए।

मामले की जांच में संजय कुमार पांडे, आनंद लाल दर्जी, रहमत खान, महेंद्र साकेत, पठान कादर खान, गगन सिकरवार, राहुल कुशवाहा, प्रदीप खानविलकर, अशोक कुमार महालदार, राजा उर्फ रामनरेश लोधी समेत अज्ञात आरोपियों के संगठित गिरोह के खिलाफ आपराधिक धोखाधड़ी व आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।

ई-मेल से दिया था लालच
आरोपियों ने डाॅ. प्रीति को ई-मेल के जरिए कम समय में अधिक मुनाफा देने वाली स्कीम का लालच दिया था। इसके चलते आरोपियों ने अलग-अलग बैंक खातों में नौ लाख रुपए जमा कराए थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week