MP NEWS - दतिया के सिरफिरे आशिक ने दुल्हन को शादी के ठीक पहले गोली मार दी

मध्य प्रदेश के दतिया में रहने वाले दीपक अहिरवार ने अपने पड़ोस में रहने वाली काजल अहिरवार की गोली मार कर हत्या कर दी। हत्या उस समय की गई जब काजल की शादी होने वाली थी और उसे दुल्हन का श्रृंगार किया जा रहा था। इसके तत्काल बात वरमाला का कार्यक्रम था। दोनों दतिया के रहने वाले हैं परंतु शादी झांसी में थी, और हत्या भी झांसी में ही हुई है। 

दीपक अहिरवार, काजल के परिवार वालों को पसंद नहीं था

झांसी से सटे मध्य प्रदेश के दतिया के राजकुमार अहिरवार की बेटी काजल (20) की रविवार को शादी थी। पड़ोसी युवक दीपक अहिरवार काजल को पसंद करता था। शादी करना चाहता था। मगर, काजल और उसका परिवार शादी के लिए राजी नहीं था। परिवार ने काजल की शादी झांसी में चिरगांव के सिमथरी गांव के रहने वाले राज से तय कर दी। रविवार को झांसी के खोडन में स्थित निशा गार्डन में शादी होनी थी। काजल अपने परिवार के साथ रविवार शाम को ही मैरिज हॉल पहुंच गई थी।

ब्यूटी पार्लर में घुस आया, बोला मेरे साथ चल

निशा गार्डन से करीब 200 मीटर दूर एक ब्यूटी पार्लर में काजल शाम 5 बजे तैयार होने पहुंची। साथ में उसकी 4 चचेरी बहन नेहा, मुस्कान, वंदना और अनुष्का भी थीं। नेहा और अनुष्का ने बताया- रात करीब 10 बजे दीपक आया। उसने ब्यूटी पार्लर का गेट खोला और काजल से बातचीत करने लगा। साथ चलने को कहा तो काजल ने मना कर दिया। इस पर पार्लर चलाने वाली महिला ने दीपक को बाहर निकाल दिया और अंदर से गेट बंद कर दिया।

दरवाजा तोड़कर गोली चला दी

बहन नेहा ने बताया- उन्हें बाहर से दीपक के चिल्लाने की आवाज सुनाई देती रही। कुछ देर बाद उसने दरवाजे का शीशा तोड़ दिया। अंदर आकर धमकी दी और बंदूक निकाल कर काजल पर गोली चला दी। गोली लगते ही काजल नीचे गिर गई। फिर, उसने हम लोगों को भी जान से मारने की धमकी दी। हम बहुत ज्यादा डर गए थे। दीपक धमकी देते हुए अपने दोस्त के साथ भाग गया। आस-पास के लोग वहां पहुंच गए। सूचना मिलते ही भाई मौके पर पहुंचे और काजल को अस्पताल ले गए।

दीपक की दहशत के कारण ही दतिया नहीं झांसी में शादी कर रहे थे

काजल के परिजन का कहना है- दीपक ने उन लोगों को पहले भी धमकाया था। कहा था- वह काजल की शादी होने नहीं देगा। उसके खौफ की वजह से ही वो लोग दतिया के बजाए झांसी में आकर बेटी की शादी कर रहे थे। झांसी के खोड़न में काजल के रिश्तेदार रहते हैं। उन्होंने ही यहां गेस्ट हाउस का इंतजाम कराया था, लेकिन इसकी भनक किसी तरह दीपक को लग गई। वह रविवार शाम को दोस्तों के साथ झांसी पहुंच गया। लोगों ने शाम करीब 5 बजे ही गार्डन के पास दीपक को देखा था।

बारात बीच रास्ते से वापस लौटी

दुल्हन की हत्या के बाद बारात बीच रास्ते से ही वापस लौट गई। काजल तीन भाई-बहनों में दूसरे नंबर की थी। उससे बड़ा भाई विकास है, जबकि छोटा भाई विशाल। काजल ने नौवीं के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी। पिता राजकुमार खेती-किसानी करते हैं।

2 पुलिस टीमें मध्य प्रदेश भेजी गई

एसएसपी राजेश एस ने बताया- शादी से कुछ घंटे पहले ही दुल्हन की गोली मारकर हत्या की गई है। आरोपी दीपक उन लोगों का पीछा करते हुए झांसी आया था। दीपक को गिरफ्तार करने के लिए 2 पुलिस टीमें दतिया भेजी गई हैं। घर के साथ ही जहां-जहां उसके रिश्तेदार हैं, वहां भी छापेमारी की जा रही है। युवक की जल्द गिरफ्तारी हो जाएगी। 

विनम्र अनुरोध 🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। मध्य प्रदेश के महत्वपूर्ण समाचार पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में Madhyapradesh पर क्लिक करें।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !