BHOPAL NEWS - मंत्री के बेटे का वीडियो वायरल, पब्लिक से मारपीट, FIR दर्ज करने वाले 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मोहन सरकार के स्वास्थ्य मंत्री श्री नरेंद्र शिवाजी पटेल के सुपुत्र का एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें मंत्री जी के सुपुत्र पब्लिक के साथ मारपीट करते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस घटना के बाद मंत्री जी के सुपुत्र के खिलाफ मामला दर्ज करने वाले चार पुलिस कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया गया। 

घटना का विवरण

घटनास्थल शाहपुरा क्षेत्र, घटना का दिन व समय शनिवार शाम, स्वास्थ्य मंत्री के बेटे का नाम अभिज्ञान पटेल, बताया गया है। शाहपुरा पुलिस के मुताबिक, राज्यमंत्री श्री नरेंद्र शिवाजी पटेल का बेटा अभिज्ञान पटेल त्रिलंगा इलाके में घूम रहा था। ट्रैफिक सिग्नल के पास गाड़ी रुकने पर मीडियाकर्मी विवेक सिंह से उनका विवाद हो गया। अभिज्ञान और उसके साथ मौजूद लड़कों ने विवेक के साथ मारपीट शुरू कर दी।

यह देख वहां मेन रोड पर मौजूद एक रेस्टोरेंट संचालक डेनिस मार्टिन उर्फ सोनू अपनी पत्नी के साथ बाहर निकले और बीच-बचाव करने लगे। इस पर अभिज्ञान और उनके समर्थकों ने सोनू और उनकी पत्नी के साथ मारपीट की। इसमें सोनू के सिर पर चोटें आई हैं।

मारपीट की शिकायत करने सोनू अपनी पत्नी के साथ थाने पहुंचे तो पीछे-पीछे अभिज्ञान भी आ गया। पुलिस थाने के अंदर विवाद करने लगा। इस पर कुछ पुलिस कर्मचारियों ने उसे बलपूर्वक रोका और दंपति की शिकायत पर अभिज्ञान पटेल के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। 

मंत्री खुद पुलिस थाने पहुंचे और चार पुलिसकर्मी सस्पेंड

इस घटना की जानकारी मिलते ही मंत्री श्री नरेंद्र शिवाजी पटेल अपने कुछ साथियों को लेकर पुलिस थाने पहुंच गए। बताया गया है कि दौरान मंत्री श्री पटेल काफी गुस्से में थे। उन्होंने पुलिस थाने से बैठकर पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से बात की और चार पुलिस कर्मचारियों को सस्पेंड करवा दिया। निलंबित पुलिस कर्मचारियों पर आरोप है कि उन्होंने मंत्री जी के बेटे के साथ अभद्र व्यवहार किया। 

मैं मंत्री का बेटा हूं, अभिज्ञान पटेल नाम है मेरा

रात करीब 1:25 बजे मामले में पहली FIR आलिशा की शिकायत पर दर्ज की गई। रेस्टोरेंट संचालक की पत्नी अलीशा ने पुलिस को बताया, 30 मार्च रात 8.00 बजे की बात है। मैं अपने रेस्टोरेंट में थी। मैंने देखा कुछ लोग एक लड़के की पिटाई कर रहे हैं। मैंने पूछा कि क्यों मार रहे हो। उन लड़कों ने मुझे गाली दी और हाथापाई की। एक लड़का कहने लगा- मैं मंत्री का बेटा हूं। अभिज्ञान पटेल नाम है मेरा, तू मेरा क्या बिगाड़ लेगी। तेरा रेस्टोरेंट तोड़ देंगे। तुझे गायब कर देंगे। उसने मेरे सिर पर रॉ़ड मारी। मेरा चश्मा टूट गया।

मेरे पति बचाने आए तो उसने व उसके साथ के लड़कों ने पति के भी सिर पर गमला और रॉड मार दी। हमें बचाने रेस्टोरेंट कर्मचारी सीताराम आए। लड़कों ने उन्हें भी मारा। इसके बाद हम थाने आए। हमारे पीछे वो लोग भी आ गए। सभी लड़के धमकी देने लगे। वो कह रहे थे- हम देख लेंगे, कैसे रेस्टोरेंट चलाती हो। 

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !