MP NEWS - उज्जैन में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने जेठ और पति की गोली मारकर हत्या करके सरेंडर कर दिया

साल 2024 के पहले दिन 1 जनवरी सोमवार की सुबह उज्जैन में एक ऐसा हत्याकांड हुआ जो पूरे देश में चर्चा का विषय बन जाएगा। एक आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने अपने जेठ और पति की गोली मारकर हत्या की और फिर थाने में जाकर आत्मसमर्पण कर दिया। घटनास्थल इंगोरिया गांव, उज्जैन जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर लेकिन इंगोरिया पुलिस थाने से मात्र 200 मीटर की दूरी पर है। 

दिनांक 1 जनवरी 2024, सोमवार की सुबह जेठ धीरज पूजा करने के लिए घर के आंगन में आया था। उसी समय महिला आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सविता घर से निकली और जेठ धीरज पर दो गोलियां चलाईं। पहली गोली उसके सिर और दूसरी गोली उसके कंधे पर लगी। इसके बाद सविता घर के अंदर गई और सो रहे पति राधेश्याम की कनपटी पर गोली मार दी। फायरिंग की आवाज सुनकर धीरज की पत्नी और उसका बेटा बाहर आए तो सविता ने उन पर भी फायर किए। हालांकि, वे बच गए। इधर गोली लगने के बाद पति राधेश्याम की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि जेठ धीरज ने इलाज के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया।

दोनों भाइयों के बीच चल रहा था जमीन विवाद

परिजन के मुताबिक, सविता (उम्र 41 वर्ष) अपने पति राधेश्याम कुमारिया (उम्र 43 वर्ष) के साथ अलग मकान में रहती थी जबकि धीरज कुमारिया (45) सामने बने मकान में अपने परिवार के साथ रहता था। जानकारी के मुताबिक, सविता का पति राधेश्याम शराब पीने का आदी था। उसका अपने भाई धीरज से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। आरोपी सविता आंगनवाड़ी में काम करती है। सविता-राधेश्याम की 21 और 22 साल की दो बेटियां हैं। 15 साल का एक बेटा है, जो 10वीं क्लास में पढ़ता है। धीरज कुमारिया के परिवार में पत्नी और एक बेटा है।

पारिवारिक झगड़ा और विवाद वारदात की वजह

पुलिस ने कहा, 'जांच पूरी होने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। फिलहाल, महिला को हिरासत में ले लिया है। घटना का कारण पारिवारिक झगड़ा और विवाद बताया जा रहा है। पूर्व में भी महिला ने अपने जेठ पर प्रकरण दर्ज करवाया था।' 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !