INVESTMENT - बैंक एफडी से ज्यादा ब्याज और बैंक एफडी से ज्यादा सुरक्षित, RBI BONDS

यदि आप बैंक में फिक्स डिपाजिट करने जा रहे हैं, तो 1 मिनट रुक कर इस समाचार को ध्यानपूर्वक पढ़िए। रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया के सेविंग मोड में इन्वेस्टमेंट करने पर आपको बैंक के फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ब्याज मिलेगा और जहां तक सुरक्षा की गारंटी है तो, बैंक की गारंटी आरबीआई होता है यानी इससे ज्यादा सुरक्षित इन्वेस्टमेंट भारत में कोई नहीं हो सकता। 

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया का फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड 

जुलाई 2020 में फिक्स्ड इंटरेस्ट रेट वाले आरबीआई सेविंग बंद की जगह फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड लॉन्च किया गया था। इसका फायदा यह है कि हर 6 महीने में ब्याज दर में संशोधन हो जाता है। बैंक में फिक्स डिपाजिट करने की तुलना में नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट NSC का ब्याज ज्यादा होता है, और RBI के फ्लोटिंग रेट सेविंग बंद पर NSC की ब्याज दर की तुलना में 0.35% ज्यादा ब्याज मिलता है। यानी भारत में सबसे सुरक्षित इन्वेस्टमेंट प्लान पर सबसे ज्यादा ब्याज मिल रहा है। 

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड की ब्याज दर

भारत सरकार ने जनवरी से मार्च तक के लिए NSC पर 7.7% ब्याज दर घोषित की है। इसके कारण आरबीआई ने अपने बंद पर जनवरी से जून तक के लिए 8.05% ब्याज दर की घोषणा कर दी है। इसके बाद जुलाई से दिसंबर के लिए नवीन ब्याज दर की घोषणा की जाएगी। 

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड में कितना इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं

आरबीआई सेविंग बॉन्ड का मूल्य ₹1000 है। आप जितने चाहे उतने बॉन्ड खरीद सकते हैं। यानी न्यूनतम इन्वेस्टमेंट ₹1000 है और अधिकतम इन्वेस्टमेंट की कोई लिमिट नहीं है। 

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड की मैच्योरिटी

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड में काम से कम 7 साल के लिए इन्वेस्टमेंट किया जाता है। आप चाहे तो इससे अधिक अवधि के लिए भी निवेश कर सकते हैं। यदि एक वित्तीय वर्ष में आपका ब्याज की रकम ₹10000 से अधिक हुई तो उस पर टीडीएस कटौती का प्रावधान है। 

रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड कहां से खरीद सकते हैं

भारत के किसी भी सरकारी बैंक से रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड खरीद सकते हैं। इसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम से खरीदा जा सकता है। प्राइवेट बैंकों में एचडीएफसी बैंक, आइसीआइसीआइ बैंक और एक्सिस बैंक के माध्यम से रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया फ्लोटिंग रेट सेविंग बॉन्ड खरीदे जा सकते हैं। आप चाहे तो RBI से डायरेक्ट भी खरीद सकते हैं। 

सीनियर सिटीजन प्रीमेच्योर रिडेंप्शन कर सकते हैं 

  • 60-70 साल के निवेशक 6 वर्ष के बाद, 
  • 70-80 साल के निवेशक 5 वर्ष के बाद 
  • 80 साल से ऊपर के निवेशक 4 वर्ष के बाद 
 प्रीमैच्योर रिडम्पशन कर सकते हैं। लेकिन प्रीमैच्योर रिडम्पशन पर होल्डिंग पीरियड के अंतिम 6 माह के ब्याज की 50% पेनल्टी लगेगी। 

व्हाट्सएप में प्रतिदिन बिजनेस आइडियाज एवं बिजनेस न्यूज़ प्राप्त करने के लिए कृपया यहां क्लिक करके व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वाइन करें। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !