BHOPAL NEWS - जीतू पटवारी का नजदीकी गिरफ्तार, इंदौर से आकर ट्रांसफर पोस्टिंग का काम कर रहा था

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव के निर्देश के बाद नवीन सिंह राठौर नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। यह व्यक्ति इंदौर का रहने वाला है। पूछताछ में उसने बताया कि वह कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री जीतू पटवारी का नजदीकी है। पुलिस ने बताया कि नवीन सिंह, भोपाल स्थित मुख्यमंत्री निवास आने जाने लगा था और लोगों से ट्रांसफर पोस्टिंग के पैसे लिया करता था। 

क्राइम ब्रांच पुलिस ने बताया कि 13 दिसंबर 2023 को मोहन यादव सीएम पद की शपथ ले रहे थे। इसी दौरान इंदौर के केसर बाग रोड निवासी नवीन सिंह राठौर विंध्य कोठी पहुंच गया और उसने खुद को डॉ मोहन यादव का करीबी बताया। सिर्फ इतना ही नहीं उसने विंध्य कोठी में मौजूद अधिकारियों को एक रजिस्टर में डॉक्टर मोहन यादव के करीबी लोगों के नाम लिख कर दिए, और निर्देशित किया कि इन सभी का विशेष ध्यान रखना है। इसके कारण वहां मौजूद सभी लोगों नवीन सिंह के प्रभाव में आ गए। क्राइम ब्रांच ने बताया कि भोपाल में नवीन सिंह लोगों से ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने, सरकारी टेंडर दिलाने, विवादित जमीनों पर कब्जा दिलाने, पार्टी में पद दिलाने आदि के नाम से रिश्वत लेने लगा। 

यह शिकायतें पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज हुई

  • 3-4 शिक्षकों की नियुक्ति मंत्रालय से कराने का झांसा दिया था। 
  • एक महिला की नगर निगम इंदौर में नौकरी लगवाने की बात की थी।
  • जनजाति विभाग के एक कर्मचारी की नौकरी चली गई थी, हाई कोर्ट से केस जीतने के बाद भी उसकी नौकरी वापस नहीं लग रही थी। तब मंत्रालय के एक अधिकारी से सीईओ को फोन कराया था।
  • भोपाल में 59 एकड़ विवादित जमीन राजस्व विभाग से छुड़वाने के लिए भी बात की थी।
  • जैत, बुदनी निवासी एक व्यक्ति ने ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बनवाने के लिए भी उससे बात की थी। 
  • यहां तक की भोपाल कमिश्नर ने भी उससे संपर्क किया था, वह इंदौर कमिश्नर बनना चाहते हैं। 

पहले संघ का प्रचारक फिर जीतू पटवारी का नजदीकी

आरोपी नवीन ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि वह इंदौर में मसालों के साथ ड्रायफ्रूट की दुकान चलाता है। वह 1998 से 2007 तक संघ का प्रचारक रहा है। उसके मामा व अन्य रिश्तेदार भी संघ से जुड़े हुए हैं। इसके अलावा 2008 में वह जीतू पटवारी से जुड़ा था। दिनांक 1 जनवरी 2024 को भोपाल के एक होटल में बेरोजगार शिक्षक संघ के पदाधिकारी से, सरकार का प्रतिनिधि बनकर मिला था, और उन्हें शीघ्र नियुक्ति दिलाने का आश्वासन दिया था। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !