BHOPAL NEWS - शाहपुरा की पूजा सक्सेना, करोड़ों लालच में 82 लाख की ठगी का शिकार

लाखों पुलिस रिपोर्ट और करोड़ों कहानी बताती है कि, दुनिया भर के तक सामान्य नागरिकों के भीतर बैठे लालच को भड़काकर ठगी करते हैं। इसके बावजूद लोग लालच करना बंद नहीं करते। स्टॉक मार्केट से करोड़ों की कमाई के लालच में शाहपुरा भोपाल की पूजा सक्सेना, हैदराबाद तेलंगाना की एक महिला ठग पर विश्वास कर बैठी और 82 लाख रुपए की ठगी का शिकार हो गई। यह रकम पूजा ने अपने रिश्तेदारों से ली थी। करोड़ों का प्रॉफिट तो नहीं मिला, अब रिश्तेदारों से ली गई रकम भी वापस चुकानी पड़ेगी। फिलहाल पुलिस इन्वेस्टिगेशन कर रही है। 

भोपाल में इन्वेस्टमेंट और प्रॉफिट के नाम पर ठगी की कहानी

जांच अधिकारी एसआई जय सिंह के मुताबिक अंसल प्रधान इनक्लेव, दानापानी रोड निवासी पूजा सक्सेना गृहिणी हैं। उनके पति नीरव सक्सेना प्राइवेट कंपनी में जॉब करते हैं। पूजा शेयर मार्केट का काम सीख रहीं थीं। एक वेबसाइट पर उनकी मुलाकात हैदराबाद की शेयर ब्रोकर पद्मा बाबू से हुई थी। इसके बाद पद्मा ने भोपाल आकर एमपी नगर के एक होटल में सेमीनार भी आयोजित किया, जिसमें पूजा सक्सेना भी गईं। सेमीनार में उनकी पद्मा से मुलाकात हुई थी। पद्मा ने शेयर मार्केट में इनवेस्टमेंट और प्रॉफिट की जानकारी दी थी। पूजा ने शेयर मार्केट का काम शुरू किया ही था तो वह पद्मा के जाल में फंस गईं। उन्होंने अपने और सात-आठ परिचितों व रिश्तेदारों के 82 लाख रुपए शेयर मार्केट में इनवेस्ट करने के लिए पद्मा के खाते में ट्रांसफर किए थे। लेकिन यह राशि पद्मा ने शेयर मार्केट में नहीं लगाई। इसके बाद उसने पूजा का फोन उठाना भी बंद कर दिया। पुलिस ने धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है। 

मोरल ऑफ़ द न्यूज़

शेयर बाजार में पैसा कमाना वैसे भी आसान है। बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स और मैनेजमेंट अपने पूरे करियर को रिस्क पर डालकर कंपनी चलाते हैं। आपको केवल कंपनी के आंकड़ों की समीक्षा करनी है और यह समझने की कोशिश करनी है कि, कंपनी का भविष्य कैसा है। लोग इस काम के लिए भी किसी दूसरे पर डिपेंड होना चाहते हैं। लोगों की इसी कमजोरी का शेयर मार्केट के ठग फायदा उठाते हैं। शेयर बाजार के चमत्कारी रिकॉर्ड दिखाते हैं, और फिर अपने आप को बड़ा दिग्गज बताते हुए यह सुविधा उपलब्ध करा देते हैं कि आपको केवल इन्वेस्टमेंट करना है, बाकी सारी माथापच्ची हम कर लेंगे। कभी-कभी तो रिटर्न की गारंटी भी दे देती है। 

लोगों को यह समझना जरूरी है कि, पैसे को काम पर लगाने के लिए भी खुद को सुपरवाइजर बनना पड़ता है। पैसा कम करें और आप पिकनिक मनाए ऐसा कभी नहीं हो सकता। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !