MP NEWS - बालाघाट कलेक्टर ने अपराध किया है, उन्हें सस्पेंड किया जाए, कांग्रेस की मांग

मध्य प्रदेश प्रशासनिक सेवा के अधिकारी एवं बालाघाट कलेक्टर डॉ गिरीश मिश्रा के खिलाफ मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी ने राजधानी भोपाल में मप्र निर्वाचन आयोग में शिकायत दर्ज करवाई है। कांग्रेस पार्टी का कहना है किडाकपत पत्रों से छेड़छाड़ के मामले में बालाघाट कलेक्टर डॉक्टर गिरीश मिश्रा की भूमिका संदिग्ध है। बालाघाट में जो कुछ भी हुआ वह एक आपराधिक कृत्य है और इसके लिए बालाघाट कलेक्टर को सस्पेंड किया जाना चाहिए। डॉ गिरीश मिश्रा आईएएस की मौजूदगी में बालाघाट में निष्पक्ष मतगणना की उम्मीद नहीं की जा सकती। 

MP NEWS - बालाघाट में कलेक्टर के निर्देश पर कर्मचारियों के मत पत्रों से छेड़छाड़ हुई है,कांग्रेस का दवा

कांग्रेस के उपाध्यक्ष एवं चुनाव आयोग के कार्यों के प्रभारी श्री जेपी धनोपिया ने शिकायत में लिखा है कि, 3 दिसम्बर को मतगणना होना नियत है, लेकिन कलेक्टर बालाघाट द्वारा 27 नवम्बर को ही बालाघाट जिले की समस्त विधानसभाओं के पोस्टल वोट, जो कि स्ट्रांग रूम में रखे हुये थे के साथ छेड़छाड़ की गई। कलेक्टर के निर्देश पर किया गया उक्त कृत्य अपराध की श्रेणी में आता है। उक्त कार्य की शिकायत प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा निर्वाचन पदाधिकारी राजन अनुपम के समक्ष व्यक्तिगत रूप से की गई, लेकिन लेकिन शिकायत उपरांत उनके द्वारा उपरोक्त गंभीर मामले पर बहुत ही हल्केपन से कार्यवाही की गई और मात्र नोडल अधिकारी को निलंबित किया गया तथा कलेक्टर जो कि सभी गतिविधियों के लिए पूर्ण रूप से जिम्मेदार होने के बावजूद उन्हें बचाने का कार्य किया जा रहा है। यहां तक कि कलेक्टर के विरूद्ध की गई शिकायत के बावजूद उन्हीं कलेक्टर महोदय को जांच देकर सिद्ध कर दिया कि पोस्टल वोट्स के साथ हुई छेडछाड को गंभीरता से नही लिया गया है  

मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी की निर्वाचन आयोग से मांग

1. यह कि जिला स्तर पर ट्रेजरी कार्यालय में पोस्टल वोट संग्रह करने के लिए जो स्ट्रांग रूम बनाया गया है वहां पर सीसीटीवी कैमरे आवश्यक रूप से लगाए गए है उनकी पूरी रिकार्डिग उपलब्ध कराई जाए।

2. यह कि जैसा कि नियम है कि मतगणना से संबंधित पोस्टल वोटस या इवीएम मशीन सभी की वीडियों ग्राफी का कार्य होना आवश्यक है तब जिस समय ट्रेजरी कार्यालय का पोस्टल वोटस से संबंधित स्ट्रांग रूम खोला गया एवं कलेक्टर के निर्देश पर जिन शासकीय कर्मचारियों द्वारा पोस्टल वोट्स के खोलने के संबंध में कार्यवाही की जा रही है क्या उस समय कलेक्टर महोदय द्वारा कोई वीडियों ग्राफी करवाई गई तब उक्त समय की वीडियों ग्राफी उपलब्ध कराई जाए जिससे स्पष्ट कि स्ट्रांग रूम खोलने अथवा बंद करने तथा उक्त अवधि के कार्य समय का अवलोकन कर वस्तुस्थिति से अवगत कराया जा सके।

3. यह कि जैसा नियम है कि मतगणना दिवस के एक दिन पूर्व 3:00 बजे सभी प्रत्याशियों को विधिवत रूप से सूचित करते हुए उनके स्वयं की उपस्थिति या उनके प्रतिनिधियों की उपस्थिति में पोस्टल वोटस से संबंधित स्ट्रांग रूम को खोला जाएगा एवं उनकी उपस्थिति में पुलिस अभिरक्षा में पोस्टल वोट्स को मतगणना स्थल स्थित स्ट्रांग रूम में मतगणना प्रारंभ होने के पूर्व रखा जाएगा तब चुनाव आयोग के दिशा निर्देशों नियमों को ताक पर रखते हुए कलेक्टर बालाघाट द्वारा अवकाश के दिन किस तरह अनुचित कार्यवाही की गई का लिखित प्रतिवेदन जो कि आपके द्वारा जांच के उपरांत प्राप्त हुआ है उसकी प्रतिलिपि भी उपलब्ध कराई जावे क्योंकि जानकारी अनुसार कलेक्टर बालाघाट मंत्री एवं भाजपा प्रत्याशी गौरीशंकर बिसेन के नजदीकी संबंध है इसएिये उन्होंने पोस्टल वोट के काम में संबंधित करीबी कर्मचारी को कार्य में लगाया है।

धनोपिया ने पत्र में कहा कि 27 नवम्बर को बालाघाट में पोस्टल वोट के संबंध में उपरोक्त समस्त जानकारी आगामी कार्यवाही हेतु प्रदेश कांग्रेस को शीघ्र उपलब्ध कराई जाए तथा बालाघाट में हुए पोस्टल वोट्स के संबंध में अनुचित एवं अवैध कार्यवाही कराने के लिए सक्षम अधिकारी कलेक्टर बालाघाट को तत्काल निलंबित किया जावे एवं विस्तृत जांचकर अन्य संबंधित व्यक्तियों के विरूद्ध भी कार्यवाही की जावे, क्योंकि स्थानीय स्तर पर समाचार पत्रों में समाचार प्रकाशित हुआ है कि पोस्टल वोटस से संबंधित स्ट्रांग रूम खोलने के संबंध में गौरीशंकर बिसेन के करीबी जो सरकारी कर्मचारी है जो उस समय मौजूद है उनका चित्र समाचार पत्र में प्रकाशित है। उक्त पत्र की प्रतिलिपि मुख्य चुनाव आयुक्त, भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली को भी कार्यवाही हेतु भेजी गई है। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है। 


#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !