आप जाकर दिग्विजय सिंह और जयवर्धन के कपड़े फाड़िए, कमलनाथ ने वीरेंद्र रघुवंशी समर्थकों से कहा- MP NEWS

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव 2023 - शिवपुरी विधानसभा से विधायक श्री वीरेंद्र रघुवंशी का टिकट काट दिए जाने के बाद कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ ने उनके समर्थकों को वास्तविक स्थिति बताते हुए स्पष्ट कर दिया कि इस मामले में, मैं कोई डिसीजन नहीं कर पाऊंगा। आप जाकर दिग्विजय सिंह और जयवर्धन के कपड़े फाड़िए। इस घटनाक्रम का वीडियो भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता श्री नरेंद्र सलूजा ने अपने ट्विटर हैंडल पर अपलोड किया है जिसे हम इस समाचार के अंत में प्रदर्शित कर रहे हैं। यदि उनकी तरफ से अथवा ट्विटर की तरफ से यह वीडियो नहीं हटाया गया तो आप समाचार के अंत में जाकर देख सकते हैं।

वीरेंद्र रघुवंशी समर्थकों को पीसीसी में हंगामा के बाद कमलनाथ ने मिलने बुलाया था

प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में आज श्री वीरेंद्र रघुवंशी के समर्थन में रघुवंशी समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि, श्री वीरेंद्र रघुवंशी को शिवपुरी विधानसभा से टिकट का आश्वासन दिया गया था, लेकिन जब लिस्ट आई तो पिछोर विधायक श्री केपी सिंह को शिवपुरी विधानसभा से उम्मीदवार घोषित कर दिया गया। पीएससी ऑफिस में हंगामा के बाद रघुवंशी समाज के लोगों को प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ से मिलवाया गया। 

कमलनाथ ने खुलकर बताया- शिवपुरी विधानसभा से कांग्रेस उम्मीदवार की घोषणा कैसे हुई

कमलनाथ ने रघुवंशी समाज के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, वीरेंद्र रघुवंशी को मैं कांग्रेस पार्टी में शामिल किया है। मेरी इच्छा थी, और अभी भी इच्छा है कि वीरेंद्र रघुवंशी को शिवपुरी विधानसभा से कांग्रेस पार्टी का प्रत्याशी घोषित करना चाहिए। यह बात मैंने दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के ऊपर छोड़ दी थी। इसमें कोई मिसअंडरस्टैंडिंग नहीं है। केपी सिंह ने कुछ कहा, उसने कहा कि मेरी दिग्विजय सिंह से बात हो गई। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मेरी केपी सिंह से बात हो गई। बाद में कहते हैं कि अरे, हम तो ऐसा समझे नहीं थे। मैंने दोनों (दिग्विजय सिंह और केपी सिंह) को दिल्ली बुलाया है। केपी सिंह शिवपुरी क्यों जाए, मुझे यह बात ही नहीं समझ में आई। इसके कारण मैं वीरेंद्र के सामने शर्मिंदा हुआ। शिवपुरी की बात दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह से करो। मैं तो वीरेंद्र को चाहता हूं। अब आप लोग यहां से जाकर दिग्विजय सिंह और जयवर्धन सिंह के कपड़े फाड़िए, यह मत कहना कि मैंने कहा है। 

मैंने जो कहा है वह समझ लो: कमलनाथ

रघुवंशी समाज के लोग जब इस बात से भी शांत नहीं हुई तो कमलनाथ ने फिर से स्पष्ट किया कि वह चाहते हैं कि रघुवंशी समाज के नेताओं को टिकट दिया जाए। सिरोंज विधानसभा सीट से रघुवंशी समाज के दावेदार की तलाश की जा रही है। अभी तक कोई नाम नहीं मिला है। जहां तक शिवपुरी विधानसभा की बात है तो, आप लोग समझ लो कि मैं क्या कहा है। 

अब समझ में आया वीरेंद्र रघुवंशी का टिकट कैसे काटा 

केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ श्री वीरेंद्र रघुवंशी कांग्रेस पार्टी से भाजपा में गए थे। श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के कारण ही श्री वीरेंद्र रघुवंशी भाजपा से कांग्रेस पार्टी में वापस आए परंतु उन्होंने एक बड़ी गलती कर दी। श्री वीरेंद्र रघुवंशी ने प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ से सीधे संबंध बनाए और श्री दिग्विजय सिंह को बाईपास कर दिया। बस यही सबसे बड़ी गलती कर दी क्योंकि ग्वालियर चंबल क्षेत्र में श्री दिग्विजय सिंह को बाईपास करके कांग्रेस पार्टी में नगर पालिका पार्षद का टिकट नहीं मिलता, और श्री वीरेंद्र रघुवंशी विधानसभा का टिकट पाना चाहते थे। 

ठाकुरों में ठन गई है, दूर तलक जाएगी 

यदि श्री कमलनाथ की बात पर विश्वास किया जाए तो, कहानी कुछ इस प्रकार बनती है कि श्री दिग्विजय सिंह की मदद से श्री केपी सिंह, श्री वीरेंद्र रघुवंशी का टिकट लूट कर ले गए। लेकिन श्री वीरेंद्र रघुवंशी रोने और शिकायत करने वाले नेता नहीं है। उन्होंने 24 घंटे के भीतर भोपाल से लेकर दिल्ली तक हल्ला मचा दिया है। वीरेंद्र रघुवंशी भी ठाकुर है और केपी सिंह भी ठाकुर है। दोनों ठाकुरों में ठन गई है। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !