MP NEWS- स्कूल शिक्षा आउट सोर्स डाटा एंट्री ऑपरेटरों की सैलरी प्राचार्य की जिम्मेदारी: DPI

Madhya Pradesh Government School outsour employees news

मध्यप्रदेश शासन, स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत संचालित शासकीय विद्यालयों में कार्यरत आउट सोर्स डाटा इंट्री ऑपरेटरों के लिए गुड न्यूज़ है। अब उनका वेतन समय पर मिलेगा क्योंकि इसके लिए लोक शिक्षण संचालनालय मध्य प्रदेश, भोपाल द्वारा स्कूल के प्राचार्य को जिम्मेदार घोषित कर दिया गया है। DPI ने बताया कि प्राचार्य द्वारा टाइम पर अटेंडेंस नहीं भेजने के कारण आउट सोर्स कंप्यूटर ऑपरेटरों की सैलरी देर से जारी होती है। 

सब का वेतन 5 तारीख तक, जिला शिक्षा अधिकारी की जिम्मेदारी

लोक शिक्षण संचालनालय मध्य प्रदेश, भोपाल से समस्त जिला शिक्षा अधिकारियों के नाम जारी रिमाइंडर क्रमांक 229 दिनांक 24 मई 2023 में लिखा है कि, संचालनालय के पत्र क्र. IT / 2020-21 /149/122 भोपाल दिनांक 10.12.2021 का अवलोकन करें जिसकी कण्डिका-4 में दिये गये निर्देश के अनुसार आउटसोर्स आधार पर कार्यरत डाटा एन्ट्री ऑपरेटर्स की उपस्थिति प्राचार्य द्वारा प्रत्येक माह की 22 तारीख को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में जमा किया जाना है तथा प्रत्येक मैन पावर को माह की 5 तारीख तक पारिश्रमिक का भुगतान अनिवार्य रुप से किया जाना है। 

स्कूलों के प्राचार्य लापरवाही कर रहे हैं: लोक शिक्षण संचालनालय

प्रायः देखा जा रहा है कि जिले द्वारा प्रति माह की उपस्थिति प्राचार्यो से प्राप्त कर निर्धारित समयावधि में एमपीकॉन को नही भेजी जा रही है। जिसके कारण संचालनालय स्तर पर पारिश्रमिक नही मिलने की शिकायतें प्राप्त हो रही हैं। अतः समस्त जिला शिक्षा अधिकारी सुनिश्चित करें कि प्रत्येक माह की 22 तारीख को प्राचार्यों से उपस्थिति प्राप्त कर माह की 25 तारीख तक एमपीकॉन को भेज कर माह की 5 तारीख तक समस्त ऑपरेटर्स का भुगतान किया जाना सुनिश्चित करें। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन कर सकते हैं। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !