MP WEATHER FORECAST- 15 जिलों में ओलावृष्टि का खतरा, ताकतवर हुआ पश्चिम का तूफान

भोपाल
। पृथ्वी के पश्चिमी समुद्र से उठा तूफान, अफगानिस्तान के आसमान पर काफी ताकतवर होता जा रहा है। उसके कारण पैदा होने वाली चक्रवाती हवाएं और बादल मध्यप्रदेश और राजस्थान सहित भारत के कई हिस्सों में छा गए हैं। कई इलाकों में हल्की बारिश शुरू हो गई है। भारत मौसम विज्ञान विभाग द्वारा दिल्ली में ओलावृष्टि का अलर्ट जारी कर दिया गया है वहीं मध्य प्रदेश के 15 जिलों के लिए भी ओलावृष्टि का खतरा बताया गया है। यह खतरा 28 जनवरी तक बना रहेगा।

मध्य प्रदेश मौसम का पूर्वानुमान- 15 जिलों के किसानों के लिए चेतावनी

मौसम केंद्र भोपाल के अनुसार मध्य प्रदेश के ग्वालियर शिवपुरी गुना दतिया अशोकनगर भिंड मुरैना श्योपुर छतरपुर टीकमगढ़ निवाड़ी शाजापुर आगर मालवा मंदसौर और नीमच में बारिश होने की प्रबल संभावना है। इनमें से कुछ इलाकों में हल्की बारिश शुरू हो चुकी है। मौसम केंद्र का कहना है कि यदि पृथ्वी के पश्चिमी समुद्र से उठे तूफान की चक्रवाती हवाएं और बादल इसी तरह बढ़ते रहे तो आने वाले दिनों में ओलावृष्टि हो सकती है। 

मध्य प्रदेश मौसम समाचार - कहां कितनी बारिश

पिछले तीन दिन से प्रदेश के कई शहरों में हल्की बारिश हो रही है। खासकर सतना, रीवा, गुना, दतिया, छतरपुर, पन्ना में भींग रहे हैं। लगभग पूरे मध्यप्रदेश के आसमान पर बादल छाए हुए हैं। रात के समय बादलों का गिरा घना हो जाने के कारण कोहरा पड़ रहा है परंतु ठंडी हवाएं नहीं चल रही है। लेकिन जैसे ही आसमान साफ होगा, शीतलहर फिर से शुरू हो जाएगी। प्रदेश में फिलहाल ठंड का जोर कम हो गया है। सोमवार रात किसी भी शहर में पारा 10 डिग्री से नीचे नहीं रहा। सबसे ज्यादा न्यूनतम तापमान नर्मदापुरम में 16.7 डिग्री रिकॉर्ड हुआ। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।