GK Today- पृथ्वी का एकमात्र इकोसिस्टम जहां ना सूर्योदय होता है ना सूर्यास्त, तारीख नहीं बदलती, कैलेंडर नहीं होता

GK IN HINDI-USEFUL TOPIC FOR CLASS 12 Th BIOLOGY (NCERT BOOK BASED) 

यह तो अपन सभी जानते हैं कि सारी दुनिया को एनर्जी देने के लिए सूर्य (SUN) कॉमन अल्टीमेट सोर्स है। पहाड़, मैदान और समुद्र, वनस्पति, जीव जंतु और मनुष्य, सभी अपनी जैविक क्रियायों (Vital Activities) के लिए प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से सूर्य की रौशनी (Sun light) पर ही निर्भर है। परन्तु पूरी दुनिया में केवल एक ऐसा पारिस्थितिक तंत्र (ECOSYSTEM) है जो सूर्य की रौशनी पर निर्भर नहीं करता। 

What is Hydrothermal Vent - जलतापीय छिद्र क्या है

उस पारिस्थितिक तंत्र का नाम है हाइड्रोथर्मल वेंट (Hydrothermal Vents)। यह दुनिया का एकमात्र ऐसा इकोसिस्टम है जो सनलाइट पर डिपेंडेंट नहीं होता। यह इकोसिस्टम समुद्र की बहुत अधिक गहराई में पाया जाता है। जहाँ तक सनलाइट पेनिट्रेट नहीं कर पाती। इस कारण यह इकोसिस्टम सोलर एनर्जी का उपयोग नहीं कर पाता और अपने अस्तित्व को बनाए रखने के लिए बायोजियोकेमिकल एनर्जी (Biogeochemical Energy)का उपयोग करता है। 

What is PAR- सूर्य की रोशनी समुद्र में कितनी गहराई तक जाती है

कारण- चूँकि महासागरों की गहराई 500 मीटर से अधिक होती है। जबकि दृश्य प्रकाश विज़िबल स्पेक्ट्रम जिसे PAR (Photosynthetically Active Radiations) कहते हैं। इसकी भेदन क्षमता 500 मीटर से कम होती है। इसी कारण सूर्य का प्रकाश। डीप सी हॉट हाइड्रोथर्मल वेंट तक नहीं पहुँच पाता। और यहाँ का पर्यावरण हमेशा अंधकारमय रहता है और वहाँ रहने वाले जीव-जंतुओं और पेड़-पौधों को यह भी मालूम नहीं होता कि सूर्य नामक कोई खगोलीय ऊर्जा का स्रोत भी हैं। ना तो उनकी लाइफ में संडे होता है और ना ही उनकी कुंडली में सूर्य ग्रह। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।