BHOPAL में कोहरा का पहरा, देश में दूसरा सबसे घना, विजिबिलिटी 50 मीटर - NEWS TODAY

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में आज घना कोहरा छाया रहा। तापमान के कांटे ने तालाब में जंप लगा दी। 3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट के साथ 7.2 दर्ज किया गया। हिसार और पूर्णिया के बाद देश में दूसरा सबसे घना कोहरा भोपाल में रिकॉर्ड किया गया। दूसरे नंबर पर भोपाल के साथ चंडीगढ़, अंबाला, भिवानी, करनाल, भागलपुर और मंडी दर्ज किए गए। सभी जगह विजिबिलिटी 50 मीटर रही जबकि नंबर वन पर हिसार और पूर्णिया में विजिबिलिटी मात्र 25 मीटर थी। 

ऐसा लगा जैसे भोपाल में अचानक फॉग मशीन चला दी हो

31 दिसंबर तक मौसम साफ था और लोग कड़ाके की ठंड का इंतजार कर रहे थे। 1 जनवरी को जैसे ठंड ने दरवाजे पर दस्तक दी और 2 जनवरी को ऐसा लगा जैसे किसी ने अचानक पूरे शहर में फॉग मशीन चला दी है। भोपाल के आसमान पर कोहरा ही कोहरा छाया हुआ था। खराब मौसम के कारण भोपाल आने वाली एयर इंडिया की दिल्ली और मुंबई फ्लाइट को नागपुर डायवर्ट करना पड़ा। इंडिगो की दिल्ली, मुंबई और हैदराबाद फ्लाइट लेट हुईं। इंडिगो की बेंगलुरु फ्लाइट आज कैंसिल करना पड़ गई।

सतपुड़ा की रानी पचमढ़ी में कड़ाके की ठंड, तापमान 5 डिग्री से नीचे

मध्यप्रदेश में पचमढ़ी की रात सबसे सर्द रही। यहां न्यूनतम तापमान 4.5 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। ग्वालियर में रात का तापमान 8.2, इंदौर में 9.4 डिग्री रहा। इंदौर में 2 डिग्री टेंप्रेचर लुढ़का है। खंडवा, खरगोन नर्मदापुरम, खजुराहो, सतना, रीवा, सीधी और सिवनी में तापमान 10 से ऊपर रहा। बाकी जिलों में 10 से नीचे ही रिकॉर्ड हुआ।

मध्य प्रदेश के 8 जिलों में घना कोहरा, 18 यात्री घायल

प्रदेश भर में सबसे ज्यादा कोहरा भोपाल के अलावा रायसेन, गुना, उमरिया, दमोह, खजुराहो, जबलपुर और सागर में रहा। विजिबिलिटी 50 मीटर से लेकर 500 मीटर से कम रही। सागर में कोहरे के कारण बस पलटने से 18 से अधिक यात्री घायल हो गए। बस रीवा से इंदौर जा रही थी। 

मध्यप्रदेश मौसम- मावठ की बारिश का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के मुताबिक, 5-6 जनवरी को मावठा भी गिर सकता है। इसकी एंट्री जबलपुर से होगी। यह भोपाल के पास तक एक्टिव रह सकता है। ग्वालियर-चंबल में रात का पारा 5 डिग्री के नीचे, तो इंदौर और भोपाल में यह 9 डिग्री तक आ सकता है। मौसम वैज्ञानिक एसएन साहू ने बताया कि ईस्ट एमपी में पानी गिर सकता है। अगर स्ट्रॉन्ग सिस्टम बनता है, तो तापमान में तेजी से गिरावट होगी। सिस्टम अगर ज्यादा स्ट्रॉन्ग होता है तो ओले भी गिर सकते हैं।

मध्य प्रदेश के इन इलाकों में 2 दिन तक बरसात होगी

जबलपुर, नर्मदापुरम, बैतूल और आसपास के जिलों में दो दिन बारिश हो सकती है। अधिकांश इलाकों में तापमान 10 डिग्री के नीचे आ सकता है। ग्वालियर, चंबल, बुंदेलखंड, बघेलखंड और महाकौशल में पारा 7 से नीचे जा सकता है। भोपाल, इंदौर, उज्जैन और नर्मदापुरम में तापमान 9 डिग्री से नीचे आ सकता है।

मध्य प्रदेश के 20 जिलों में घने कोहरे का येलो अलर्ट

रीवा, सागर, चंबल, ग्वालियर, भिंड, नीमच, मंदसौर, उज्जैन, बैतूल, भोपाल, रायसेन, सीहोर, विदिशा, डिंडोरी और दतिया में अगले 24 घंटे के दौरान घना कोहरा रह सकता है। मौसम विभाग ने इन जिलों के लिए यलो अलर्ट जारी किया है।